अमृतसरः निरंकारी भवन पर ग्रेनेड से हमला, 3 की मौत, दोषियों पर होगी कार्रवाई     |       उत्तरप्रदेश / आतंकी कसाब का जाति और निवास प्रमाण पत्र जारी, लेखपाल निलंबित     |       राजस्थानः कांग्रेस की तीसरी लिस्ट जारी, महागठबंधन मजबूत करने की कोशिश     |       जम्मू-कश्मीर के सोपियां में सुरक्षाबलों ने 2 आतंकियों को मार गिराया, हथियार और गोला-बारूद बरामद     |       तेजप्रताप ऐश्वर्या तलाक! राबड़ी से मिलीं ऐश्वर्या की मां, घर से रोते हुए निकलीं     |       राम मंदिर निर्माण पर BJP विधायक सुरेन्द्र सिंह बोले, संविधान से ऊपर हैं भगवान     |       CG Election 2018 Live Update: महासमुंद में यह बोले PM मोदी- पढ़े पल-पल की खबर     |       खट्टर के रेप वाले बयान पर केजरीवाल ने साधा निशाना, उठाए सवाल     |       नायडू के बाद अब ममता बनर्जी ने राज्य में CBI की खुली एंट्री रोकी, कहा- राजनीतिक हथियार बन चुकी है ये एजेंसी     |       यूपी में सॉल्वर गिरोह के बड़े रैकेट का भंडाफोड़, STF ने छह सदस्यों को किया गिरफ्तार     |       VIDEO: पहली बार ससुराल पहुंचीं दीपिका ने जोड़े हाथ और सभी से किया ये एक सवाल     |       1971 की जंग के नायक ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी का कैंसर से निधन     |       US में नाबालिग ने की बुजुर्ग भारतीय की हत्या, आरोपी गिरफ्तार     |       न कटेगा न फटेगा 100 रुपए का ये नया नोट, RBI बैठक में होने जा रहा है बड़ा ऐलान     |       अंतरिक्ष से भी दिखते हैं सरदार पटेल, ऊपर से ली गई 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' की Photo वायरल     |       राजस्थान / कामिनी जिंदल की संपत्ति 5 साल में 93 करोड़ बढ़ी, 287 करोड़ 46 लाख की मालकिन     |       क्या दिग्विजय सिंह के सियासी एजेंडे को आगे बढ़ा पाएंगे विलायत रिटर्न 'छोटे राजा साहब' जयवर्धन सिंह     |       अभय को बड़े भाई के वापस लौटने की उम्मीद, बोले- मेरे खिलाफ कटु बोलकर सोए नहीं होंगे     |       भीमा कोरेगांव: पुणे पुलिस ने वरवरा राव को उनके घर से किया गिरफ्तार     |       केजरीवाल पर आरोप लगाने वाले मुख्य सचिव का तबादला, मोदी सरकार के साथ करेंगे काम     |      

जीवनशैली


देश में 35 लाख लोगों को नहीं पता, वे हेपेटाइटिस-सी से पीड़ित हैं

पोषण विशेषज्ञ अवनी कौल इस बारे में कहा, "विज्ञान ने पिछले कुछ वर्षो में बहुत तरक्की कर ली है जिसकी वजह से हेपेटाइटिस सी का इलाज संभव है।


35-lakh-people-do-not-know-in-the-country-they-are-suffering-from-hepatitis-c

देश में 35 लाख लोगों को नहीं पता कि उनमें हेपेटाइटिस-सी के कीटाणु हैं। सीडीसी (रोग नियंत्रण अैर रोकथाम केंद्र) के एक अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ है। हेपेटाइटिस लिवर की बीमारियों का एक प्रमुख कारण है और अगर इसका इलाज समय पर नहीं करवाया जाए तो यह बीमारी लिवर कैंसर का रूप ले सकती है।

पोषण विशेषज्ञ अवनी कौल इस बारे में कहा, "विज्ञान ने पिछले कुछ वर्षो में बहुत तरक्की कर ली है जिसकी वजह से हेपेटाइटिस सी का इलाज संभव है। जब बीमारी आठ से बारह सप्ताह से चल रही हो तब भी उसका 90 प्रतिशत लोगों में उसका उपचार संभव है। इस बीमारी के बारे में कई भ्रांतियां हैं, जिसके कारण कभी कभी इसका इलाज शुरू नहीं हो पाता। ऐसा माना जाता है कि हेपेटाइटिस के कारण जॉन्डिस होता है। सत्य यह है कि जॉन्डिस या पीलिया केवल एक लक्षण है।" 

उन्होंने कहा, "ऐसा माना जाता है कि हेपेटाइटिस एवं जॉन्डिस गंदे पीने के पानी के द्वारा फैलता है। यह सच नहीं है, क्योंकि ये बीमारी खून के द्वारा कीटाणु जब जिगर में पहुंचते हैं, तब होती है। इस बीमारी का नियंत्रण समय पर टीका लगने से हो सकता है। जॉन्डिस हो जाने के बाद केवल उबला हुआ और कम मसाले वाला हल्का भोजन पीड़ित को दिया जाता था, लेकिन अब यह भ्रांति भी विज्ञान के द्वारा गलत साबित हो गई है। रोगी को निरोगी होने के लिए अच्छा पौष्टिक भोजन जिसमें अधिक प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा देना चाहिये। ऐसा न करने पर रोगी व्यक्ति को स्वस्थ्य होने में बहुत समय लगेगा।" 

अवनी ने कहा, "कुछ लोगों के अनुसार शराब पीने से हेपेटाइटिस-सी होता है। यह सत्य है कि शराब इस बीमारी के लक्षण बढ़ाता है लेकिन यह इसका मुख्य कारण नहीं है। हेपेटाइटिस ग्रसित महिलाओं को अपने बच्चों को स्तनपान कराने से मना भी किया जाता है ताकि बच्चों में इस बीमारी के कीटाणु ना पहुंचे, परंतु वैज्ञानिकों द्वारा यह तथ्य सत्य नहीं पाया गया।" 

उन्होंने कहा, "यह धारणा है कि खाने में हल्दी एवं नींबू का पानी भी जॉन्डिस या पीलिया का कारण बन सका है, बिल्कुल गलत पाई गई। असल में हल्दी जिगर और अन्य अंगों को साफ रखती है और नींबू इनको शक्ति प्रदान करता है। ऐलोपैथी में हेपेटाइटिस का कोई इलाज नहीं है। यह भ्रांति भी कभी कभी सुनने में आती है। ऐसा बिल्कुल सत्य नहीं है। बीमारी पकड़ में आने के बाद इसका बहुत अच्छा इलाज एैलोपैथी कर सकती है। इधर, उधर लोगों की सलाह पर इलाज करना ठीक नहीं रहता।" 

पोषण विशेषज्ञ अवनी कौल ने कहा कि बीमारी चाहे हेपेटाइटिस हो या कोई और इलाज हमेशा योग्य व्यक्ति से ही करवाना चाहिए, ताकि बीमारी पर नियंत्रण अच्छी हो और स्वास्थ्य लाभ भी रहे।
 

advertisement