अमृतसर में सत्‍संग पर ग्रेनेड से हमला, धमाके में तीन की मौत व 20 से अधिक घायल     |       फांसी के छह साल बाद बना दिया अजमल कसाब का निवास प्रमाण पत्र, पोल खुली तो मचा हड़कंप     |       राम मंदिर निर्माण पर BJP विधायक सुरेन्द्र सिंह बोले, संविधान से ऊपर हैं भगवान     |       कश्मीर: दो की हत्या के बाद एक और युवक को आतंकियों ने किया अगवा     |       तेज प्रताप के तलाक में नया टर्न: राबड़ी देवी से मिलकर रोते हुए वापस गईं ऐश्‍वर्या की मां     |       टिकट बंटवारे पर बीकानेर शहर की दोनों सीटों पर पॉलिटिकल वेदर का चढ़ता-उतरता पारा     |       CG Election 2018 Live Update: महासमुंद में यह बोले PM मोदी- पढ़े पल-पल की खबर     |       बंगाल-आंध्र में CBI को नो एंट्री पर जेटली बोले- भ्रष्‍टाचार में डूबे लोग ऐसा ही करते हैं     |       रेप से जुड़े बयान पर विवाद के बाद खट्टर की सफाई, कहा- 'इन्वेस्टिगेशन से आया फैक्ट है मेरी बात'     |       ..तो क्या इसलिए पीयूष गोयल को लखनऊ से लौटना पड़ा उलटे पांव?     |       यूपी टीईटी : एसटीएफ की निगरानी में पहली पाली की परीक्षा समाप्त     |       भदोही में टीईटी परीक्षा के दौरान महिला के पास चिप लगी डिवाइस बरामद, पूछताछ जारी     |       नहीं रहे 1971 में पाकिस्तानी सैनिकाें काे खदेड़ने वाले ब्रिगेडियर चांदपुरी, जानें कैसी थी उनकी जिंदगी     |       शादी के बाद रणवीर के घर दीपिका, सास ने किया बहू का स्वागत     |       US में नाबालिग ने की बुजुर्ग भारतीय की हत्या, आरोपी गिरफ्तार     |       पीएम मोदी ने मालदीव को दिया आश्वासन, कहा- घबराइये मत, हम करेंगे आपकी मदद     |       न कटेगा न फटेगा 100 रुपए का ये नया नोट, RBI बैठक में होने जा रहा है बड़ा ऐलान     |       अंतरिक्ष से स्‍टेच्‍यु ऑफ यूनिटी का नजारा, 597 फीट की ऊंचाई से ऐसे दिखते हैं 'सरदार पटेल'!     |       मध्य प्रदेश चुनाव 2018: पति के साथ चुनाव प्रचार करने उतरी दिग्विजय सिंह की बहू     |       केजरीवाल पर आरोप लगाने वाले मुख्य सचिव का तबादला, मोदी सरकार के साथ करेंगे काम     |      

राष्ट्रीय


अमृतसर रेल हादसा | रेल राज्य मंत्री का मनोज सिन्हा की सफाई, रेलवे की तरफ से कोई चूक नहीं हुई

सिन्हा ने कहा कि वह स्थान घटनास्थल से लगभग 70 मीटर की दूरी पर था, जो रेलवे के अधिकार क्षेत्र में नहीं आता। सिन्हा ने कहा कि यह आरोप-प्रत्यारोप लगाने का समय नहीं है


amritsar-railway-tragedy-railway-state-minister-says-there-is-no-fault-of-railway-department

पंजाब के अमृतसर में ट्रेन द्वारा भीड़ को कुचलने जाने की घटना में 60 लोगों की मौत के बाद केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने शनिवार को कहा कि इस दुर्घटना के लिए उनका मंत्रालय जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने कहा कि जोड़ा फाटक के पास दशहरा कार्यक्रम के लिए प्रशासन और कार्यक्रम आयोजकों ने रेलवे को सूचित नहीं किया गया था। 

शुक्रवार आधीरात घटनास्थल पहुंचे सिन्हा ने संवाददाताओं को बताया, "वास्तव में कमिश्नर (अमृतसर) ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उन्होंने इस स्थान पर दशहरा कार्यक्रम के लिए मंजूरी नहीं दी थी।"

गौरतलब है कि शुक्रवार को रावण दहन देख रहे लोग तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आ गए थे। 10 सेस 15 सेकेंड में ही क्षत-विक्षत शवों का ढेर लग गया। 

सिन्हा ने कहा कि वह स्थान घटनास्थल से लगभग 70 मीटर की दूरी पर था, जो रेलवे के अधिकार क्षेत्र में नहीं आता। सिन्हा ने कहा कि यह आरोप-प्रत्यारोप लगाने का समय नहीं है।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पटाखों के शोर में ट्रेन की आवाज सुनाई नहीं दी।

इसे पहले रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने कहा था कि दुर्घटनास्थल दो स्टेशनों के बीच का हिस्सा है, जहां ट्रेन नियत स्पीड से चलती है। 

उन्होंने कहा कि जोड़ा फाटक पर जालंधर-अमृतसर डीजल मल्टीपल यूनिट (डीएमयू) यात्री ट्रेन के लोको पायलट ने ब्रेक लगाए थे।

लोहानी ने संवाददाताओं को बताया, "ट्रेन तय स्पीड पर चल रही थी और ऐसी उम्मीद नहीं थी कि लोग ट्रैक पर खड़े होंगे। यह पूरी तरह से ट्रेसपासिंग का मामला है। रेलवे ट्रैक से जुड़े दशहरे कार्यक्रम के बारे में रेलवे को कई जानकारी नहीं दी गई थी।" यह घटना शुक्रवार शाम को धोबी घाट के पास हुई, जहां लोग रावण दहन देखने आए थे।

लोहानी ने कहा कि घटनास्थल दो स्टेशनों के बीच का हिस्सा है, जहां ट्रेन ट्रैक के मुताबिक नियत स्पीड पर चलती है। 

रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, यह घटना रेलवे के इंटरलॉक लेवल क्रॉसिंग से लगभग 340 मीटर की दूरी पर हुई। लोहानी ने कहा कि रेलवे ने सड़क यातायात को विनियमित करने के लिए मानव लेवल क्रॉसिंग पर अपने स्टाफ की नियुक्ति की।

लोको पायलट की जिम्मेदारी के बारे में पूछे जाने पर लोहानी ने कहा, "हमारी शुरुआती रिपोर्ट से पता चलता है कि लोको पायलट ने ब्रेक लगाए थे और स्पीड 90 किलोमीटर प्रतिघंटे से कम होकर लगभग 60-65 किलोमीटर प्रतिघंटा हो गई थी। हम अभी भी स्पीडोमीटर चार्ट की जांच कर रहे हैं।"

उन्होंने जनता से रेलवे ट्रैक पर नहीं चलने की हिदायत देते हुए कहा, "रेलवे नियमित तौर पर लोगों को जागरूक करता रहता है कि रेलवे ट्रैक पर चहलकदमी नहीं करें।"
 

advertisement

  • संबंधित खबरें