Lok Sabha Election 2019: भाजपा ने जारी की 36 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट, पुरी से संबित पात्रा - दैनिक जागरण     |       लोकसभा/ मुरादाबाद की जगह फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ेंगे राज बब्बर, संबित पात्रा पुरी से उम्मीदवार - Dainik Bhaskar     |       NDA की संभावित 40 उम्मीदवारों की लिस्ट: शाहनवाज का पत्ता साफ! - आज तक     |       Lok Sabha Election 2019: झारखंड BJP के प्रत्‍याशी तय, कड़ि‍या मुंडा आउट; देखें सूची - दैनिक जागरण     |       Shopian encounter : जम्मू-कश्मीर में मुठभेड़ों में 3 आतंकी ढेर, बंधक बनाए गए नाबालिग की भी मौत - Times Now Hindi     |       आतंकी ने बच्चे का तालिबानी अंदाज में रेता गला, शादी के लिए लड़की के भाई को बनाया था बंधक- Amarujala - अमर उजाला     |       भारत के रक्षा सिद्धांत बदल चुके हैं, आतंक के खिलाफ कदम पीछे नहीं हटेंगे- जेटली - Dainik Bhaskar     |       हिंदी न्यूज़ - patna-bihar-news-papers-headlines-for 23 march -hindustan-dainik jagran-dainik bhaskar-prabhat khabar-brvj- हिन्दी समाचार, टुडे लेटेस्ट न्यूज़ इन हिन्दी - News18 इंडिया     |       PM मोदी ने दी इमरान को राष्ट्रीय दिवस की शुभकामनाएं, कहा- शांति के लिए साथ चलने का वक्त आ गया है - Hindustan     |       लंदन में नीरव मोदी के गिरफ्तार होने पर गुलाम नबी आजाद ने कहा- चुनावी फायदे के लिए हुई कार्रवाई - ABP News     |       भारत के एक दांव से परेशान हुआ चीन, खुद को बता रहा बड़े दिलवाला - Business - आज तक     |       नीरव मोदी के लिए हैप्पी नहीं रही होली, लंदन की जेल में खचाखच भरे कैदियों के साथ गुजारी रात - News18 इंडिया     |       हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन बाजार में गिरावट - मनी कॉंट्रोल     |       Jio Offer: शियोमी के इस फोन पर मिल रहा है, 2000 से ज्यादा का कैशबैक, साथ में 100 GB इंटरनेट फ्री - Hindustan     |       नई Suzuki Ertiga Sport हुई पेश, यहां जानें खास बातें - आज तक     |       जल्द लॉन्च होगा Vitara Brezza का फेसलिफ्ट वर्जन, मारुति ने शुरू किया प्रॉडक्शन - नवभारत टाइम्स     |       Javed Akhtar फ़िल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी 'का पोस्टर देखकर हैरान हुए - BBC हिंदी     |       'केसरी' ने होली पर जमाया रंग, पहले दिन कमाए इतने करोड़ - Hindustan     |       एक्टर विद्युत जामवाल ने खोले 'जंगली' के 5 मोस्ट डैंजरस सीन के राज, जरा सी चूक ले सकती थी जान- Amarujala - अमर उजाला     |       मोदी बायोपिक के ट्रेलर का उड़ रहा मजाक, वायरल हो रहे मीम्स - आज तक     |       आईपीएल/ चेन्नई-बेंगलुरु के बीच मैच आज, उद्घाटन मुकाबले में पहली बार दोनों टीमें आमने-सामने - Dainik Bhaskar     |       अब टेस्ट में भी जर्सी पर होगा नाम व नंबर, इस बदलाव को लेकर आइसीसी ने दी मंजूरी - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       गौतम गंभीर को कोहली का जवाब- बाहर बैठे लोगों के बारे में सोचता तो घर पर बैठा होता - आज तक     |       क्रिकेट के बाद अब सियासी पिच पर बैटिंग करेंगे गौतम गंभीर, मिल चुका है 'पद्म श्री' और 'अर्जुन अवार्ड' - NDTV India     |      

राजनीति


जीवन, सपनों और मौत पर लिखी अटल बिहारी बाजपेयी की वो दो कविताएं जिसे सबको पढ़ना चाहिए

वह एक जनप्रिय कवि भी थे, उनकी कविताओं की गूंज आज भी हर भारतीय के मन में सुनाई देती है। उनकी कविताएं अगर निराश व्यक्ति को नया साहस देती हैं, तो जीवन के कुछ सच्चे अर्थों को भी खोलती हैं


atal-bihari-vajpayee-poem-on-life-dream-and-death-all-must-read

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और जननेता अटल बिहारी बाजपेई नहीं रहे। अटल जी भले ही दक्षिणपंथी विचारों वाले नेता हों, लेकिन उनका व्यक्तित्व इतना विराट था कि हर दल के नेता से उनके मधुर संबंध रहे और सभी उन्हें प्यार करते थे। 

वह एक जनप्रिय कवि भी थे, उनकी कविताओं की गूंज आज भी हर भारतीय के मन में सुनाई देती है। उनकी कविताएं अगर निराश व्यक्ति को नया साहस देती हैं, तो जीवन के कुछ सच्चे अर्थों को भी खोलती हैं। 

पढ़िए जीवन और मौत से संबंधित उनकी दो बेहतरीन कविताएं- 

ठन गई! मौत से ठन गई!

जूझने का मेरा इरादा न था,

मोड़ पर मिलेंगे इसका वादा न था,

 

रास्ता रोक कर वह खड़ी हो गई,

यूं लगा जिंदगी से बड़ी हो गई।

 

मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं,

जिंदगी सिलसिला, आज कल की नहीं,

 

मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं,

लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं?

 

तू दबे पांव, चोरी-छिपे से न आ,

सामने वार कर फिर मुझे आजमा,

 

मौत से बेखबर, जिंदगी का सफ़र,

शाम हर सुरमई, रात बंसी का स्वर,

 

बात ऐसी नहीं कि कोई ग़म ही नहीं,

दर्द अपने-पराए कुछ कम भी नहीं।

 

प्यार इतना परायों से मुझको मिला,

न अपनों से बाक़ी हैं कोई गिला,

 

हर चुनौती से दो हाथ मैंने किए,

आंधियों में जलाए हैं बुझते दिए।

 

आज झकझोरता तेज़ तूफ़ान है,

नाव भंवरों की बांहों में मेहमान है,

 

पार पाने का क़ायम मगर हौसला,

देख तेवर तूफ़ां का, तेवरी तन गई।

मौत से ठन गई।

 

गीत नया गाता हूं

टूटे हुए तारों से फूटे बासंती स्वर,

पत्थर की छाती मे उग आया नव अंकुर,

 

झरे सब पीले पात,

कोयल की कुहुक रात,

प्राची में अरुणिम की रेख देख पता हूं,

गीत नया गाता हूं।

 

टूटे हुए सपनों की कौन सुने सिसकी,

अन्तर की चीर व्यथा पलकों पर ठिठकी,

 

हार नहीं मानूंगा, रार नहीं ठानूंगा,

काल के कपाल पे लिखता मिटाता हूं।

गीत नया गाता हूं।

 

advertisement