राजस्थान चुनाव: BJP ने सचिन पायलट के खिलाफ युनूस खान को मैदान में उतारा     |       अमृतसर हमला: विवाद के बाद बैकफुट पर फुल्का, कांग्रेस ने बताया मानसिक दिवालिया     |       विवाद / आरबीआई बोर्ड की अहम बैठक शुरू, सरकार से मतभेद खत्म होने के आसार     |       देवोत्थान एकादशी आज, अब शुरू हो जाएंगे विवाह और अन्य शुभ कार्य     |       अमित शाह ने कहा -कांग्रेस, नेहरू-गांधी परिवार की प्राइवेट लिमिटेड कंपनी     |       पॉर्न साइट पर डाले पत्नी के फोटो-मोबाइल नंबर     |       लालू की सेहत खराब, लौटेंगे तेज     |       दिल्ली: एक साल की बच्ची के साथ रेलवे ट्रैक पर रेप, आरोपी गिरफ्तार     |       Top 5 News : सेना में बड़े बदलाव की तैयारी, RBI की महत्वपूर्ण बोर्ड बैठक आज     |       नक्सलियों के साथ दिग्विजय सिंह की कॉल का लिंक मिला: पुणे पुलिस     |       18000 फीट ऊंचाई, भारत में बन रहा ग्लेशियर से गुजरने वाला पहला रोड     |       पाकिस्‍तान पर भड़के डोनाल्‍ड ट्रंप, कहा- वो हमारे लिए कुछ भी नहीं करता     |       जम्मू कश्मीर: पुलवामा में दो आतंकी हमले, CRPF जवान शहीद, जैश ने ली जिम्मेदारी     |       शिक्षक बनने की दौड़ में शामिल हुए 45 हजार अभ्यर्थी     |       2019 लोकसभा चुनाव से पहले शिवसेना का नया नारा: हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर, फिर सरकार     |       UPTET परीक्षा में नकल करते पकड़ी गई महिला शिक्षामित्र, धांधली में हुई 35 की गिरफ्तारी     |       अलीगढ़ / ट्यूशन टीचर ने कक्षा दो के छात्र को बुरी तरह पीटा, मासूम की मानसिक हालत बिगड़ी, सीसीटीवी में कैद घटना     |       मराठा आरक्षण को महाराष्ट्र सरकार ने दी मंज़ूरी, कितना आरक्षण मिलेगा ये तय नहीं     |       वोट के लिए बंट रहा था 10 रुपये में एक किलो चिकन, EC ने मारा छापा     |       मध्यप्रदेश चुनाव: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मैहर में किया रोड शो     |      

गुड न्यूज


ओडिशा में समय पूर्व मिलेगी आपदा की सूचना, सीएम नवीन पटनायक ने स्थापित की चेतावनी प्रणाली 

मुख्यमंत्री ने पहले चरण में 7,000 गांवों में ग्राम आपदा प्रबंधन योजना (वीडीएमपी) बनाए जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गजपति जिले में भूस्खलन से हुए नुकसान की रोकथाम के उपायों पर कार्य करने के लिए अध्ययन किया जा सकता है


cm-of-odisha-naveen-patnaik-launches-early-warning-dissemination-system

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने सोमवार को राज्य के लोगों को प्राकृतिक आपदा की समय से पूर्व सूचना देने के लिए एक चेतावनी प्रसार व जन संदेश प्रणाली स्थापित की। सरकार ने चक्रवात, सुनामी और बाढ़ के बारे में पहले चेतावनी देने के लिए तटवर्ती जिलों में 122 टॉवर स्थापित किए हैं।

मुख्यमंत्री ने पहले चरण में 7,000 गांवों में ग्राम आपदा प्रबंधन योजना (वीडीएमपी) बनाए जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गजपति जिले में भूस्खलन से हुए नुकसान की रोकथाम के उपायों पर कार्य करने के लिए अध्ययन किया जा सकता है।

पटनायक ने ओडिशा के तट से टकराने वाले भयावह चक्रवात का जिक्र करते हुए कहा, "हम 1999 से बहुत आगे आ गए हैं।"

उस चक्रवात से करीब 10,000 लोगों की मौत हुई थी। उन्होंने कहा कि उसके बाद से उस दिन को ओडिशा आपदा तैयारी दिवस नाम दिया गया।

उन्होंने कहा, "हमें अनुमान की स्पष्टता व नुकसान का अंदाजा लगाने के साथ कुछ आधारों पर काम करने की जरूरत है, खास तौर से दूरवर्ती इलाकों में।" उन्होंने कहा कि पहाड़ी के ऊपर के गांवों को भविष्य में होने वाले नुकसानों से बचाने के लिए वहां से अन्यत्र स्थानांतरित करने की जरूरत है। 
 

advertisement

  • संबंधित खबरें