पायलट के खिलाफ BJP का मुस्लिम कार्ड, यूनुस खान क्या साबित होंगे तुरूप का पत्ता?     |       अमृतसर / आईएसआई की पनाह में बैठे खालिस्तानी आतंकी हैं बम कांड के सरगना, मकसद-दहशत फैलाना     |       विवाद / आरबीआई बोर्ड की अहम बैठक शुरू, सरकार से मतभेद खत्म होने के आसार     |       इंदिरा गांधी की 101वीं जयंती: मोदी, सोनिया और राहुल ने दी श्रद्धांजलि     |       सबरीमला विवाद: CM के घर के बाहर श्रद्धालुओं का प्रदर्शन, पुलिस पर लगाया दुर्व्यवहार का आरोप     |       धांधली / टीईटी परीक्षा में प्रदेश भर में पकड़े गए 41 मुन्ना भाई, एसटीएफ जांच में जुटी     |       KMP एक्सप्रेसवे का उद्घाटन आज, दिल्ली से घटेगा गाड़ियों का बोझ     |       अमृतसर ब्लास्ट की कहानी, चश्मदीदों की जुबानी     |       18000 फीट ऊंचाई, भारत में बन रहा ग्लेशियर से गुजरने वाला पहला रोड     |       UGC Net 2018: Admit Card आज होंगे जारी, यहां करें डाउनलोड     |       2019 लोकसभा चुनाव से पहले शिवसेना का नया नारा: हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर, फिर सरकार     |       महिला से फोन पर अचानक लोग करने लगे 'गंदी बातें', खुला राज तो सन्न रह गए लोग     |       दिग्विजय पर नक्सल कनेक्शन का शक, जल्द भेज सकते हैं समन: पुणे पुलिस     |       Tulsi Vivah 2018: तुलसी विवाह का शुभ मुहूर्त, शादी की विधि, देवों को जगाने का मंत्र और कथा     |       अलीगढ़ / ट्यूशन टीचर ने कक्षा दो के छात्र को बुरी तरह पीटा, मासूम की मानसिक हालत बिगड़ी, सीसीटीवी में कैद घटना     |       सिद्धू ने इशारों में सिंहदेव को बताया मुख्यमंत्री उम्मीदवार     |       सर्वे: अमेरिकी राजीनति में युवाओं की बढ़ती दिलचस्‍पी, ट्रंप के लिए खतरे की घंटी!     |       IT-ED की छापेमारी रोकने के लिए कोर्ट जा सकते हैं नायडू, विपक्ष को भी मनाएंगे     |       मराठा आरक्षण पर सरकार की लगी मुहर     |       मध्यप्रदेश / शाह आज भोपाल में, सुरक्षा कारणों से रद्द हुआ रोड शो     |      

खेल


क्रिकेट के भगवान ने भारतीय टीम के आस्ट्रेलियाई दौरे को लेकर जो कहा है उससे हर भारतीय खुशी से झूम उठेगा

"हमारे वहां जीतने की काफी संभावना है। अगर आप अतीत की आस्ट्रेलियाई टीम को देखें और उसकी तुलना मौजूदा टीम से करें तो हमारा पलड़ा भारी नजर आता है। शायद हमारे लिए वहां जा कर जीतने का यह सर्वश्रेष्ठ मौका है। मेरा कहना है कि वह टीम इस समय उच्च स्तर की क्रिकेट नहीं खेल रही है। मुझे लगता है कि अतीत में उनकी टीमें काफी अच्छी थीं"


cricket-god-sachin-says-india-can-win-in-australia-kohli-will-be-key

भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के अंतिम निर्णायक मैच में मेहमान टीम को नौ विकेट से हराते हुए पांच मैचों की सीरीज 3-1 से अपने नाम कर ली। अब उसे दिवाली के ठीक पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ ही टी20 सीरीज खेलनी है, लेकिन असली टीम की असली परीक्षा उसके बाद आने वाले आस्ट्रेलिया के दौरे से होगी।

भारत के लिए आस्ट्रेलिया का दौरा हमेशा से मुश्किल भरा रहा है, लेकिन क्रिकेट के भगवान् कहे जाने वाले पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का मानना है कि मौजूदा भारतीय टीम में आस्ट्रेलिया में जीत हासिल करने का माद्दा है।

सचिन के मुताबिक मौजूदा आस्ट्रेलियाई टीम में योग्यता और अनुभव की कमी है, लेकिन विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम को मेजबानों को मात देने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देना होगा।

सचिन ने एक निजी समाचार चैनल से कहा, "हमारे वहां जीतने की काफी संभावना है। अगर आप अतीत की आस्ट्रेलियाई टीम को देखें और उसकी तुलना मौजूदा टीम से करें तो हमारा पलड़ा भारी नजर आता है। शायद हमारे लिए वहां जा कर जीतने का यह सर्वश्रेष्ठ मौका है। मेरा कहना है कि वह टीम इस समय उच्च स्तर की क्रिकेट नहीं खेल रही है। मुझे लगता है कि अतीत में उनकी टीमें काफी अच्छी थीं।"

उन्होंने कहा, "उनके पास पहले अच्छे अनुभवी खिलाड़ी थे और यह टीम गैरअनुभवी है। यह टीम अपने आप को एकजुट करने की कोशिश कर रही है और एक अच्छी टीम बनने के प्रयास में है। लेकिन, आस्ट्रेलियाई टीम अपनी प्रतिद्वंद्विता के लिए जानी जाती है। अगर वह अच्छा मुकाबला करें तो मुझे हैरानी नहीं होगी। वहां जाना और उन्हें चुनौती देना आसान नहीं है।"

पूर्व कप्तान ने कहा, "वहां जा कर उन्हें चुनौती देने के लिए हमारे अंदर आग होनी चाहिए। हमारे पास अच्छे तेज गेंदबाज और स्पिनर हैं। हमारे पास अच्छे बल्लेबाज भी हैं। आप टेस्ट मैच तब जीतते हैं जब आप काफी सारे रन बनाते हैं।"

सचिन ने कहा कि कोहली की कप्तानी शैली और उनकी मौजूदा फॉर्म टीम को मजबूती देगी।

सचिन ने अनुसार, "मुझे लगता है कि यह उनकी भूख है.. उनकी मानसिक मजबूती है। उनमें स्थिति को परखने की अच्छी काबिलियत है क्योंकि इसके लिए कोई सेट फॉर्मूला नहीं है। हर दिन आपके सामने कई नई चुनौतियां आती हैं और आपके दिमाग में उनसे तालमेल बिठाने की काबिलियत होनी चाहिए। कोहली इसमें माहिर हैं। उनमें सबसे अच्छी बात यह है कि उनके अंदर भूख है। बल्लेबाज को ऐसा ही होना चाहिए।"

सचिन ने हाल ही में टी-20 टीम से बाहर किए गए पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य के बारे में भी बात की।

सचिन ने आगे कहा, "मैं कभी कोई फैसला नहीं सुनाता। पहले भी मैंने कभी इस तरह की बातें नहीं की कि चयनकर्ताओं को क्या करना चाहिए। धोनी क्रिकेट के सभी प्रारूप में हमेशा से खतरनाक खिलाड़ी रहे हैं। उन्होंने इतने वर्षो में इसकी जिम्मेदारी भी ली है। मुझे हमेशा से लगता है कि जो खिलाड़ी इतने लंबे समय तक खेलता है, उसे पता होता है कि उसे क्या करने की जरूरत है।"

दुनिया के महानतम बल्लेबाजों में शुमार सचिन ने बताया, "मैं भी उस स्थिति में रहा हूं। मैं जानता था कि मुझे क्या करने की जरूरत है। आप ड्रेसिंग रूम में बैठते हैं और अपने दोस्तों से विचार करते हैं। अपने कोच से कई चीजों पर चर्चा करते हैं और आप काफी हद तक जानते हैं कि आपको क्या करना है। मेरा मानना है कि धोनी बहुत अच्छे से जानते हैं कि क्या चल रहा है और उतने ही ठोस तरीके से जानते हैं कि क्या करने की जरूरत है।"

advertisement

  • संबंधित खबरें