खबरदार: डॉक्टरों की मांगे स्वीकारने के बाद भी 'जिद' पर अड़ीं ममता? - आज तक     |       स्मृति ईरानी ने ली सांसद के रूप में शपथ, पहले ही दिन सदन से नदारद रहे राहुल गांधी - आज तक     |       डॉक्टर की सलाह: चमकी का लक्षण दिखते ही उपचार कराने पर बच सकती है जान - Hindustan     |       Jharkhand : पांच लाख की इनामी पीसी दी समेत 6 नक्सलियों ने दुमका में किया सरेंडर - प्रभात खबर     |       इस बार आयकर रिटर्न में इन बातों का जरूर रखें ध्यान वरना आ जाएगा नोटिस - दैनिक जागरण     |       बैंक अफसर बन लोगों को ठग रहे अपराधी, पढें पूरा मामला - अमर उजाला     |       World Cup 2019: बिना आउट हुए ही चलते बने कोहली, ड्रेसिंग रूम में जाकर निकाली भड़ास - अमर उजाला     |       World Cup कोई भी क्रिकेट टीम जीते, जश्न के लिए नहीं मिलेगी ICC ट्रॉफी - आज तक     |       World Cup 2019: भारत की पाकिस्तान पर जीत के बाद जम्मू-कश्मीर में मानो दिवाली हो - अमर उजाला     |       India vs Pakistan ICC world cup 2019: विराट ने अपना विकेट पाकिस्तान को गिफ्ट किया, खुद ही लौट गए पवेलियन! - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       Jammu Kashmir: अनंतनाग में सुरक्षाबलों ने दो आतंकी मार गिराए, मेजर सहित तीन जवान घायल Jammu News - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       Monsoon Updates: 2-3 दिनों में आगे बढ़ेगा मानसून, जानें दिल्‍ली में कैसा रहेगा मौसम - Times Now Hindi     |       क्राइम/ धर्म छिपाकर यूपी के मंदिर में विवाह किया रांची में किया निकाह, 5 साल बाद दिया तलाक - Dainik Bhaskar     |       जल समाधि लेने भोपाल पहुंचे मिर्ची बाबा को पुलिस ने होटेल में ही किया 'नजरबंद' - Navbharat Times     |       फ्लाइट में अश्लील हरकत कर रहे थे पति-पत्नी, पैसेंजर ने देखा और पहुंच गए जेल - News18 इंडिया     |       पाक ने कट्टरपंथी अधिकारी फैज हमीद को चुना आईएसआई का चीफ, मुनीर को 8 महीने में ही हटाया - Navbharat Times     |       ADB के पैसा देने के इनकार से पाकिस्तान को भारी शर्मिंदगी - BBC हिंदी     |       दक्षिण अमेरिका के तीन देश अंधेरे में डूबे, गलियों और सड़कों पर सन्नाटा पसरा - Hindustan हिंदी     |       Maruti दे रही है Vitara Brezza पर सबसे बड़ा डिस्काउंट, लेकिन मौका आखिरी है - अमर उजाला     |       यहां देखें Tata की नई कार Altroz का टीजर, जल्द भारत में होने वाली है लॉन्च - आज तक     |       मारुति ने वैगन आर का नया मॉडल किया लांच, जानें कीमत - Goodreturns Hindi     |       SBI : 1 जुलाई से लाखों लोगों को मिलेगा फायदा, बैंक देगा सस्ते होम लोन का विकल्प - Hindustan     |       जब Shilpa Shetty मेरे एक्स बॉयफ्रेंड Akshay Kumar को डेट कर रही थीं हम तब भी दोस्त थे : Raveena Tandon - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       कौन हैं सुमन राव जिन्होंने अपने नाम किया मिस इंडिया 2019 का खिताब? - आज तक     |       दिशा पाटनी के साथ रेस्टोरेंट के बाहर स्पॉट हुए टाइगर, एक्ट्रेस को भीड़ से बचाने के लिए किया ये काम - अमर उजाला     |       भतीजे के बर्थडे पर सलमान ने किया ये स्टंट, मजेदार है वीडियो - News18 हिंदी     |       वर्ल्ड कप/ वेस्टइंडीज-बांग्लादेश मैच आज, इंग्लैंड में दोनों टीमें 15 साल बाद आमने-सामने - Dainik Bhaskar     |       ICC World Cup 2019: हार के बाद श्रीलंका की शर्मनाक हरकत, ICC लगा सकता है जुर्माना - Hindustan     |       पाक के खिलाफ भारत की जीत को अमित शाह ने बताया 'एक और स्ट्राइक' तो केजरीवाल बोले- हिंदुस्तान को... - NDTV India     |       ICC World Cup 2019: जानिए INDvPAK मैच पर बारिश का कितना खतरा है - Hindustan     |      

राजनीति


खरगोन में साइकिल से चुनाव प्रचार कर रहा है फिल्मी कलाकार

लोकसभा चुनाव में राजनीतिक दलों से लेकर उम्मीदवारों की चुनावी प्रचार की चमक-धमक किसी से छुपी नहीं है, लेकिन मध्य प्रदेश के खरगोन संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय उम्मीदवार जानी करण ऐसे उम्मीदवार हैं,


film-actor-is-campaigning-bicycling-in-khargone

 

चुनाव प्रचार के लिए साइकिल का सहारा ले रहे हैं। कई फिल्मों में सह-अभिनेता की भूमिका निभा चुके जानी करण के बैंक खाते में महज 1000 रुपये ही हैं।

करण आदिवासियों के भील समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। उनकी जन्मभूमि मध्य प्रदेश और कर्म भूमि मुंबई है। 'गजनी', 'हेराफेरी', 'तीस मार खां' और 'युग पुरुष' जैसी 20 से ज्यादा फिल्मों में सह-अभिनेता की भूमिका निभा चुके करण आदिवासी क्षेत्रों की तस्वीर बदलना चाहते हैं। उनका सपना है कि आदिवासी क्षेत्र में भी गुजरात और भोजपुरी की तरह फिल्म उद्योग स्थापित हो।

करण ने बीकॉम तक की शिक्षा ली है और लोकसभा चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। करण ने चुनाव फार्म के साथ जो हलफनामा दिया है, उसके मुताबिक उनके बैंक खाते में सिर्फ 1000 रुपये ही हैं। वर्तमान दौर में चुनाव लड़ना बहुत महंगा हो गया है। ऐसे में उन्हें प्रचार के लिए पैसे की तंगी का सामना करना पड़ रहा है। करण ने बताया कि वह दोस्तों की मदद से चुनाव लड़ रहे हैं और प्रचार के लिए साइकिल आदि का उपयोग कर रहे हैं। 

करण ने संवाददाताओं से कहा कि उनके लिए आदिवासी क्षेत्रों का विकास सर्वोपरि है। आदिवासियों की जमीन पर उद्योगपति कब्जा कर रहे हैं, जिससे आदिवासी संस्कृति और परंपराओं पर असर पड़ रहा है। चुनाव जीतने पर इस वर्ग की मांगों को पूरी ताकत से सदन में उठाएंगे। फिल्म अभिनेता करण बीते पांच साल से चुनाव लड़ने का मन बना रहे थे और इस बार उन्होंने चुनाव लड़ने का फैसला कर ही लिया। 

खरगोन संसदीय क्षेत्र आरक्षित क्षेत्र है। यहां टक्कर भाजपा के गजेंद्र सिंह पटेल और कांग्रेस के गोविंद मुजाल्दा के बीच है। यहां 18 लाख से ज्यादा मतदाता हैं। इस सीट के लिए मतदान 19 मई को अंतिम चरण में होगा।

advertisement