फैसला / पार्टियां तीन बार मीडिया के जरिए प्रचार करें कि उनका उम्मीदवार दागी है: सुप्रीम कोर्ट     |       पचास वर्ष बाद भी रहस्य है पंडित दीनदयाल उपाध्याय मौत, जयंती आज     |       बारिश से सराबोर हुआ उत्तर भारत, आठ की मौत     |       संयुक्त राष्ट्र / ट्रम्प ने सुषमा से कहा- मैं भारत से प्यार करता हूं, नरेंद्र मोदी मेरे दोस्त     |       3 आतंकियों को ढेर कर शहीद हुआ सर्जिकल स्ट्राइक का जाबांज जवान लांसनायक संदीप     |       BHU / देर रात बवाल : पेट्रोल बम चले,पुलिस बूथ और बाइकें फूंकीं,लाठीचार्ज     |       एयरसेल-मैक्‍सिस केस : कार्ति चिदंबरम की गिरफ्तारी पर ईडी की याचिका पर सुनाई आठ अक्‍टूबर को     |       MP में आज BJP का महाकुंभ, जुटेंगे 10 लाख कार्यकर्ता, मोदी-शाह फूंकेंगे चुनावी बिगुल     |       इंस्टाग्राम / दो को-फाउंडर का इस्तीफा, 5 महीने में फेसबुक के तीन अफसरों ने कंपनी छोड़ी     |       जन्नत जैसी जगह पर हुई ईशा अंबानी की सगाई, एक रात की कीमत थी 1 करोड़ रुपए, देखें अनदेखी तस्वीरें     |       रेप मामले में नाबालिग की हामी कानून की नजर में सहमति नहीं-कोर्ट     |       राफेल मुद्दे पर राहुल ने अमेठी में कार्यकर्ताओं से कहा, 'मोदी जी चौकीदार नहीं हैं, चोर हैं'     |       मालदीव चुनाव: विपक्षी सोलिह ने किया जीत का दावा     |       बिहार के डिप्टी सीएम ने अपराधियों से हाथ जोड़कर किया आग्रह, कुछ दिन शांत रहिए     |       छत्तीगसढ़ के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश ने नहीं ली बेल, भेजे गए जेल     |       बैंक धोखाधड़ी मामले में संदेसरा बंधुओं के खिलाफ ED दाखिल करेगा चार्जशीट     |       काजोल को अजय पर आया गुस्सा, कहा घर में नहीं चलेगा प्रेंक     |       असम, मेघालय समेत पूर्वोत्तर में भूकंप के झटके, 4.7 मापी गई तीव्रता     |       दिल्ली में जल्द ही शेयरिंग कैब सर्विस हो सकती है बंद, फैसला लेने के मूड में केजरीवाल सरकार     |       पटना : दिल्ली से पटना आ रहे हवाई जहाज का दरवाजा खोलने लगा यात्री, डर गये हवाई जहाज में बैठे लोग, फिर...     |      

विदेश


अमेरिका | फ्लोरिडा के एक स्कूल में गोलीबारी, 17 की मौत

ब्रोवार्ड काउंटी शेरिफ स्कॉट इजरायल ने मीडिया को बताया कि 12 लोगों की स्कूल की इमारत के अंदर दो इमारत के बाहर और एक की नजदीकी सड़क पर मौत हो गई। इसके अलावा दो घायलों की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई।


florida-the-gunshine-state-often-devastated-by-firearms

अमेरिका के फ्लोरिडा राज्य में एक 19 वर्षीय पूर्व छात्र द्वारा स्कूल परिसर में की गई गोलीबारी में 17 शिक्षकों व छात्रों की मौत हो गई। हथियारबंद युवक को घटना के एक घंटे के भीतर ही गिरफ्तार कर लिया गया। यह भयावह घटना बुधवार को पार्कलैंड के मार्जरी स्टोनमेन डगलस हाईस्कूल में हुई जिसे पिछले वर्ष फ्लोरिडा का सबसे सुरक्षित शहर चुना गया था। 

'द न्यूयॉर्क टाइम्स' के अनुसार, एआर-15 अर्ध-स्वचालित राइफल से लैस सशस्त्र हमलावर की पहचान स्कूल के ही 19 वर्षीय निष्कासित छात्र निकोलस क्रूज के रूप में हुई है जिसे अनुशासनात्मक कारणों से स्कूल से निकाल दिया गया था।

युवक ने स्कूल की छुट्टी होने के समय अपरान्ह लगभग 2.40 बजे स्कूल के बाहर गोलीबारी शुरू की। फिर वह अंदर घुस गया और छुपने की कोशिश कर रहे भयभीत छात्रों और शिक्षकों पर गोलीबारी की। कक्षाओं में छिपे बच्चों ने अपने फोन के माध्यम से घटना के भयावह दृश्य सोशल मीडिया पर शेयर किए।

ब्रोवार्ड काउंटी शेरिफ स्कॉट इजरायल ने बताया कि क्रूज ने 12 लोगों की स्कूल की इमारत के अंदर और तीन को इमारत के बाहर जान से मारा। इसके अलावा दो घायलों की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई।

छात्रों ने इस भयावह घटना को याद करते हुए बताया कि गोलीबारी शुरू होने के दौरान उनकी अंग्रेजी की कक्षा चल रही थी।

17 साल के एक छात्र रयान कडेल ने कहा, "हमारी एक फायर ड्रिल थी। इसलिए हमें नहीं पता था कि क्या चल रहा है। हम बाहर गए और हमने देखा एक सुरक्षाकर्मी गोल्फ कार्ट से हमारे पास तेजी से आ रहा है और चिल्लाते हुए हमें भागने के लिए कह रहा है।"

'द टाइम्स' के अनुसार, एफबीआई से बात करने के बाद फ्लोरिडा के सीनेटर बिल नेल्सन ने कहा कि बंदूकधारी पूरी तरह से तैयारी कर आया था।

उन्होंने कहा, "हमलावर ने गैस मास्क पहना था। उसने धुआं किया और फायर अलॉर्म बजाया ताकि बच्चे कक्षा से बाहर आ सकें।"

 


शेरिफ स्कॉट ने कहा कि उन्हें इस घटना के पीछे का कारण नहीं पता है। इस घटना में एक फुटबॉल प्रशिक्षक की मौत हुई है। 17 मृतकों में से 12 की बुधवार रात तक पहचान हो गई है।

क्रूज का ब्रोवार्ड काउंटी स्कूल के किसी और स्कूल में दाखिला करवा दिया गया था। शेरिफ ने कहा कि अधिकारियों को क्रूज के सोशल मीडिया खातों पर हैरान करने वाली सामग्री मिली है। उसके इंस्टाग्राम खाते पर भी कई बंदूकों की तस्वीरें मिली हैं। तस्वीरों में छह राइफल और हैंडगन बिस्तर पर पड़ी नजर आ रही हैं। इसके अलावा एक तस्वीर में खून से लथपथ एक मेंढक भी नजर आ रहा है।

'द वाशिंगटन पोस्ट' के अनुसार, क्रूज के गणित के शिक्षक जिम गार्ड जो 2016 में इसी स्कूल में पढ़ाते थे, उन्होंने बताया कि वह काफी चुपचाप रहने वाला छात्र था। गोलीबारी की बाद उन्हें कई छात्रों से पता चला कि उस पर एक लड़की को लेकर जुनून सवार था जिसका वह पीछा भी करता था।

यह गोलीबारी की घटना आधुनिक अमेरिका के इतिहास की 10 सबसे घातक सामूहिक गोलीबारी की घटनाओं में से एक है जिसने विभिन्न अमेरिकी नेताओं के बीच घटना पर दुख जताते हुए एक बार फिर बंदूक नियंत्रण पर बहस छेड़ दी है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा, "फ्लोरिडा में गोलीबारी की भयावह घटना के पीड़ितों व उनके परिवारों के लिए मेरी संवेदनाएं हैं। किसी भी अमेरिकी स्कूल में कभी किसी बच्चे, शिक्षक या किसी और को असुरक्षित महसूस नहीं करना चाहिए।" 

advertisement