मुख्यमंत्री केजरीवाल पर सचिवालय में मिर्च पाउडर फेंकने से पहले शख्स ने कहा- 'आप ही से उम्मीद है'     |       हल्द्वानी निकाय चुनाव नतीजे Live: 29 सीटों पर निर्दलीय, 12 पर BJP जीती     |       ओडिशा / महानदी पर बने पुल से नीचे गिरी बस, 30 यात्री सवार थे; 7 की मौत     |       जाको राखे साइयांः बच्ची के ऊपर से गुजरी ट्रेन, नहीं आई एक भी खरोंच     |       दिल्ली में पकड़ा गया हिज्‍बुल का आतंकी, SI इम्तियाज की हत्या में था शामिल     |       दिल्ली में दो आतंकियों के घुसने की आशंका, अलर्ट पर पुलिस- जारी की फोटो     |       सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली ग्रुप को फटकारा, कहा- बस.. अब अंतिम मौका     |       इन 10 तस्‍वीरों में देखें दीपिका-रणवीर की पूरी शादी, ऐसा नजारा और कहां!     |       सोशल मीडिया / ब्राह्मण विरोधी पोस्टर थामकर विवादों में आए ट्विटर के सीईओ, कंपनी ने माफी मांगी     |       फैक्ट चेक: नहीं, MP के CM शिवराज सिंह चौहान नॉन-वेज नहीं खा रहे हैं!     |       मध्यप्रदेश / विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का ऐलान- अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी, पति ने कहा- धन्यवाद     |       दिल्ली / सिख विरोधी दंगों से जुड़े मामलों में पहली बार किसी दोषी को मौत की सजा सुनाई गई     |       ICC में हारा पाकिस्तान, अब खर्च वसूलने को भारत करेगा केस     |       परफॉर्मेंस पर ममता की खिंचाई के बाद मंत्री ने दिया कैबिनेट से इस्तीफा     |       अयोध्या विवाद: कानून बनाकर हल निकालने वाले बयान से पलटे इकबाल अंसारी     |       शेल्टर होम रेप: ब्रजेश ठाकुर की करीबी मधु समेत 2 आरोपियों को CBI ने किया गिरफ्तार     |       रक्षा सौदा / भारतीय नौसेना के लिए रूस बनाए दो जंगी जहाज, 3570 करोड़ रुपए में हुई डील     |       छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: मतदान का समय खत्म, शाम 6 बजे तक 71.93 फीसदी मतदान     |       मध्य प्रदेश / कांग्रेस की वजह से प्रदेश और देश में भाजपा की सरकारें, वो हमें खत्म करना चाहती है: मायावती     |       सरकार की इस स्कीम में 10 हजार रुपए तक मिल सकती है पेंशन, आप भी उठा सकते हैं फायदा     |      

राष्ट्रीय


केंद्र सरकार ने लागू किया अधिनियम, एचआईवी पीड़ितों से भेदभाव पर 2 साल की सजा

"केंद्र सरकार ने ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस एंड एक्वायरड इम्यूनोडिफिशियेंसी सिंड्रोम (रोकथाम व नियंत्रण) अधिनियम 2017 (2017 का 16) की धारा 1 की उपधारा (3) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए 10 सितंबर 2018 से इस अधिनियम को लागू कर दिया है" 


hiv-aids-discrimination-against-people-with-hiv-aids-will-land-you-in-jail-for-2-years

सरकार एचआईवी पीड़ित एवं एड्स के मरीजों के लिए नया बिल लेकर आई है और इसे आज से लागू कर दिया गया है। इस बीमारी से ग्रसित लोगों के साथ भेदभाव करना अब दंडनीय अपराध माना जाएगा और ऐसा करने वालों को दो साल की जेल की सजा और एक लाख रुपये तक का जुर्माना हो सकता है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि एचआईवी एड्स (रोकथाम व नियंत्रण) अधिनियम 2017 लागू हो गया है।

मंत्रालय ने एक आदेश में कहा, "केंद्र सरकार ने ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस एंड एक्वायरड इम्यूनोडिफिशियेंसी सिंड्रोम (रोकथाम व नियंत्रण) अधिनियम 2017 (2017 का 16) की धारा 1 की उपधारा (3) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए 10 सितंबर 2018 से इस अधिनियम को लागू कर दिया है।" 

संसद ने एड्स/एचआईवी की रोकथाम और नियंत्रण के लिए 11 अप्रैल 2017 को इस अधिनियम को पारित कर दिया था। इस कानून को राज्यसभा ने पिछले साल 21 मार्च को, को मंजूरी दे दी थी। वहीं तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी 20 अप्रैल को इसे अपनी मंजूरी दी।

यह अधिनियम उपचार, रोजगार और कार्यस्थल पर ऐसे लोगों के खिलाफ किसी तरह के भेदभाव को रोकता है। 

 

advertisement

  • संबंधित खबरें