BHUPESH BAGHEL कौन हैं, जीवन परिचय, संपर्क - Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) - bhopal Samachar     |       AG, CAG को समन नहीं कर सकती PAC, अधिकतर सदस्य खड़गे के प्रस्ताव के खिलाफ - Navbharat Times     |       डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने पीएम पद के लिए राहुल गांधी का नाम किया आगे, बोले- सभी को साथ देना चाहिए - NDTV India     |       राहुल गांधी को स्टालिन द्वारा पीएम पद का प्रत्याशी बताए जाने से खुश नहीं हैं कई विपक्षी दल: सूत्र - NDTV India     |       छत्‍तीसगढ़ में मुख्‍यमंत्री के रूप में टीएस सिंहदेव का नाम सबसे आगे - दैनिक जागरण     |       YEAR ENDER 2018: जब इन 5 मौकों पर शर्मसार हुआ 'जेंटलमेन गेम' - Hindustan     |       राजस्थान/ सचिन ने भावी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ट्वीट कर दी बधाई, गलती से किसी और को कर दिया टैग - दैनिक भास्कर     |       Karnataka: 6 dead, 5 injured in boiler blast at sugar factory in Bagalkot - Times Now     |       6.1-magnitude earthquake rocks Indonesia's Papua - Times Now     |       रानिल विक्रमसिंघे ने 51 दिन बाद दोबारा ली प्रधानमंत्री पद की शपथ - Dainik Bhaskar     |       Vijay Diwas 2018 Retired Air Chief Marshal Aditya Vikram Pethia said story of 1971 war - Nai Dunia     |       जब हाईवे पर गिरे हजारों नोट, कार रोककर उठाने लगे लोग! - trending clicks - आज तक     |       13-year-old Indian boy in Dubai owns software development company - Times Now     |       Alert! Your debit, credit cards may get blocked if you don't do this by December 31 - Times Now     |       BSNL ने अपग्रेड किया अपना प्लान, मिल रहा 561.1 जीबी डेटा व अनलिमिटेड कॉल - Navbharat Times     |       जॉनसन एंड जॉनसन को पहले से थी बेबी पाउडर में हानिकारक केमिकल होने की जानकारी - The Wire Hindi     |       Bigg Boss 12 December 16 preview: Shah Rukh Khan and Salman Khan enjoy performances by the contestants - Times Now     |       इसलिए ईशा अंबानी की शादी में अमिताभ, आमिर जैसे बड़े-बड़े स्टार्स ने परोसा खाना, यहां जानें सच्चाई - Patrika News     |       दुल्हन ईशा से भी ज्यादा खूबसूरत लग रही थी ये 64 साल की अभिनेत्री, यहां देखिये तस्वीरें - Newstrend     |       In a mini floral dress with thigh-high boots, Sara Ali Khan proves she is a true fashionista - see photo - Times Now     |       India captain Virat Kohli blunts the Australia attack - The Times     |       India vs Australia: तेंडुलकर ने की नाथन लियोन और भारतीय पेसर्स की तारीफ - Navbharat Times     |       विराट कोहली और पीवी सिंधु के नाम रहा आज का दिन, बढ़ाया देश का मान - Hindustan     |       बैडमिंटन/ अब कोई मेरे फाइनल हारने की बात नहीं करेगा: वर्ल्ड टूर फाइनल्स जीतने पर सिंधु - Dainik Bhaskar     |      

जीवनशैली


क्यों और कैसे ज्यादा एंटीबायोटिक लेना खतरनाक हो सकता है, इससे आपको पेट की गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं!

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, एंटीबायोटिक दवाएं, वायरस संक्रमण को रोकने और इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली दवाएं हैं। एंटीबायोटिक प्रतिरोध तब होता है, जब इन दवाओं के उपयोग के जवाब में बैक्टीरिया अपना स्वरूप बदल लेता है


how-and-why-more-antibiotic-medicines-can-damage-your-health-badly

एंटीबायोटिक, अगर आम भाषा में कहें तो एक ऐसी दवा या पदार्थ जो जीवाणु को मार डालता है या उसके विकास को रोकता है, जब कभी हम बीमार पड़ते हैं तो एंटीबायोटिक दवाओं का इस्तेमाल जरुर करते हैं, कई बार तो बिना डॉक्टर से पूछे ही। 

रोजाना की दौड़ती-भागती जिंदगी में अक्सर हम लोग सरदर्द, पेटदर्द या बुखार होने पर बिना डॉक्टर की सलाह लिए कोई भी एंटीबायोटिक दवा ले लेते हैं और तबीयत ठीक होने पर अक्सर ऐसा करते रहते हैं लेकिन चिकित्सकों ने जरूरत से अधिक एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन करने पर डायरिया जैसी पेट की गंभीर बीमारियां होने की चेतावनी दी है। 

नारायणा सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल के इंटरनल मेडीसिन सीनियर कंसल्टेंट डॉ. सतीश कौल ने कहा, "जरूरत से अधिक एंटीबायोटिक का सेवन आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। इससे आपको डायरिया जैसी पेट की बीमारियां हो सकती हैं। गलत एंटीबायोटिकलेना भी एक समस्या बन सकता है अगर आपको उस दवा से एलर्जी है तो।" 

उन्होंने कहा, "किसी भी एंटीबायोटिक का गलत या जरूरत से अधिक इस्तेमाल कई परेशानियां खड़ी कर सकता है जैसे कि इंफेक्शन जल्दी ठीक न हो पाना आदि। इससे ऐंटीबायोटिक रेसिस्टेंट ऑर्गेज्मस भी विकसित हो सकते हैं। अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह के कोइ ऐन्टीबायोटिक लगातार लेते रहेंगे तो यह खतरा बहुत बढ़ सकता है।" 

डॉ. सतीश कौल ने कहा, "वर्तमान में एंटीबायोटिक प्रतिरोधक क्षमता विश्व के सबसे बड़े स्वास्थ्य समस्याओं में से एक बन गयी है। हमें अधिक से अधिक लोगों को एंटीबायोटिक्स के सही उपयोग और उसके फंक्शन के बारे में बताना चाहिए ताकि इस समस्या का निदान हो सके। हमें इस समस्या को गंभीरता से लेने की जरूरत है।" 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के मुताबिक, एंटीबायोटिक दवाएं, वायरस संक्रमण को रोकने और इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली दवाएं हैं। एंटीबायोटिक प्रतिरोध तब होता है, जब इन दवाओं के उपयोग के जवाब में बैक्टीरिया अपना स्वरूप बदल लेता है।

डब्लूएचओ) के मुताबिक, "बिना जरूरत के एंटीबायोटिक दवा लेने से एंटीबायोटिक प्रतिरोध में वृद्धि होती है, जो कि वैश्विक स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़े खतरों में से एक है। एंटीबायोटिक प्रतिरोध संक्रमण से मरीज को लंबे समय तक अस्पताल में भर्ती रहने, इलाज के लिए अधिक राशि और बीमारी गंभीर होने पर मरीज की मौत भी हो सकती है।"

डब्लूएचओ के मुताबिक, एंटीबायोटिक प्रतिरोध संक्रमण किसी भी देश में किसी भी आयुवर्ग और किसी को भी प्रभावित कर सकता है। साथ ही जब बैक्टीरिया एंटीबायोटिक के प्रतिरोध हो जाता है तो आम से संक्रमण का भी इलाज नहीं किया जा सकता।

वहीं श्री बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टिट्यूट के इंटरनल मेडीसिन सीनियर कंसलटेंट डॉ. अरविन्द अग्रवाल ने बताया, " आजकल सरदर्द, पेटदर्द या बुखार होने पर हम बिना डॉक्टर की सलाह लिए कोई भी एंटीबायोटिक दवा ले लेते हैं। कई बार तो हम बिना किसी जरूरत के भी एंटीबायोटिक लेते रहते हैं। बिना आवश्यकता के और नियमित रूप से एंटीबायोटिक लेते रहते से आपके शरीर के माइक्रोब्स या बैक्टीरिया खुद को बदल लेते हैं जिससे एंटीबायोटिक्स उन्हें हानि नहीं पहुंचा पाते।"

उन्होंने कहा, "यह एंटीबायोटिक प्रतिरोध क्षमता कहलाती है। एंटीबायोटिक का जरूरत से अधिक इस्तेमाल करने से सबसे प्रभावशाली एंटीबायोटिक दवाइयों का भी कुछ बैक्टीरिया पर असर नहीं पड़ता। ये बैक्टीरिया अपने आप को इस तरह बदल लेते हैं कि दवा, केमिकल्स या इंफेक्शन हटाने वाले किसी भी इलाज का इनपर या तो बिलकुल ही असर नहीं पड़ता या फिर बहुत कम असर पड़ता है।"

डॉ. अरविन्द अग्रवाल ने कहा, "ऐसे बैक्टीरिया न सिर्फ दवाइयों से खुद को बचा लेते हैं बल्कि अपनी संख्या भी बढ़ाते रहते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए अधिक खतरनाक साबित होता है। बैक्टीरिया और इससे होने वाली बीमारियों को खत्म करने के लिए ली जाती हैं और यह सर्दी, खांसी, बुखार जैसे वायरल इंफेक्शन को खत्म नहीं कर सकता।"
 

advertisement