17वीं लोकसभा/ ओम बिड़ला स्पीकर चुने गए, मोदी खुद उन्हें चेयर तक लेकर आए; कांग्रेस-तृणमूल ने भी समर्थन किया - Dainik Bhaskar     |       राहुल गांधी नहीं मनाएंगे जन्मदिन, बिहार में चमकी बुखार से हो रही मौतों पर लिया फैसला - आज तक     |       उत्तर बिहार में चमकी से नौ और बच्चों की मौत, अब तक 144 ने तोड़ा दम - Hindustan     |       नाराज सिख समुदाय ने किया मुखर्जी नगर थाने का घेराव, देखें वीडियो - आज तक     |       पीएम नरेंद्र मोदी के साथ पार्टी प्रमुखों की बैठक में शामिल नहीं होंगी ममता बनर्जी - Navbharat Times     |       शहीद केतन शर्मा को रक्षामंत्री समेत हजारों लोगों ने दी अंतिम विदाई - आज तक     |       नंबर 1 ऑलराउंडर की लव स्टोरी, पत्नी के लिए मैदान में बिजनेसमैन को धुना - cricket world cup 2019 - आज तक     |       17 छक्के लगाकर इयोन मॉर्गन ने रचा इतिहास, विश्व कप में तोड़ा क्रिस गेल का रिकॉर्ड - अमर उजाला     |       भारतीय टीम की तारीफ करने में फंसा पाकिस्तानी क्रिकेटर, ट्विटर पर लोगों ने लिए मजे - आज तक     |       हार पर हाहाकार, कप्तान सरफराज की पूरी टीम को धमकी, बोले- अकेले नहीं लौटूंगा पाकिस्तान - अमर उजाला     |       अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: पीएम मोदी ने आज शेयर किया सेतु भंडासन आसन का वीडियो, आप भी देखें - ABP News     |       बिहार में हाहाकार: भाजपा ने '4जी' को ठहराया जिम्मेदार, जदयू को है बारिश का इंतजार - अमर उजाला     |       विवादों में फिल्म ‘आर्टिकल 15’, फिल्म निर्माता को कानूनी नोटिस - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       शांत क्षेत्र में तैनात सेना के अधिकारियों को फिर से मिलेगा फ्री राशन - Navbharat Times     |       चीनी मर्दों की करतूत पर पाक का पर्दा, लड़कियों ने सुनाई आपबीती - आज तक     |       America और Iran के बीच तनाव बढ़ा, खाड़ी की ओर रवाना हो रहे अमरीकी सैनिक (BBC Hindi) - BBC News Hindi     |       भूकंप के बाद जापान ने सुनामी की चेतावनी जारी की - NDTV India     |       राष्ट्रगान के दौरान कांपने लगीं जर्मनी चांसलर आंगेला मर्केल, डिहाइड्रेशन से बिगड़ी तबीयत - Navbharat Times     |       5 लाख से कम कीमत वाली नई कार लाएगी मारुति, क्विड से होगा मुकाबला - Navbharat Times     |       चीन ने बढ़ाई अनिल अंबानी की टेंशन, कर रहा 15 हजार करोड़ की डिमांड - Business - आज तक     |       प्राइवेट बैंकों ने जमा ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत तक की कटौती की, EMI भी होगी कम - Zee Business हिंदी     |       बिकवाली से बाजार में हाहाकार, सेंसेक्स 39,000 के नीचे बंद - आज तक     |       खाकी न‍िकर में प्र‍ियंका चोपड़ा, लोगों ने ट्रोल किया, बताया- RSS स्वैग - आज तक     |       Bharat Box Office Collection Day 14: सलमान खान की फिल्म ने 14वें दिन की शानदार कमाई, कमाए इतने करोड़ - NDTV India     |       रंगोली ने ऋतिक के परिवार पर लगाया आरोप, कहा- सुनैना के साथ घर में हो रही मारपीट - ABP News     |       Bharat की सफलता से ओवर एक्साइटेड Salman Khan, सोशल मीडिया पर कर रहे हैं अजीबो-गरीब हरकतें - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       वर्ल्ड कप/ दक्षिण अफ्रीका-न्यूजीलैंड मैच आज, 20 साल से कीवियों के खिलाफ नहीं जीती अफ्रीकी टीम - Dainik Bhaskar     |       [VIDEO] Ranveer Singh hugs a Pakistani fan after India's win at World Cup 2019, says, 'Don't be disheartened' - Times Now     |       भारत से बुरी तरह हारा पाकिस्तान तो एक शख्स ने कोर्ट में दायर कर दी याचिका, की ये बड़ी मांग - NDTV India     |       INDvPAK: शोएब मलिक हुए निराश- बोले- 20 साल देश के लिए खेलने के बावजूद देनी पड़ रही है सफाई - Hindustan     |      

जीवनशैली


जीवन के प्रथम घंटे में 5 में 3 नवजात स्तनपान से वंचित, मानसिक विकास का खतरा

रपट के अनुसार, भारत का आंकड़ा इस तथ्य को इंगित करता है कि जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान कराने की प्रक्रिया भारत में लगभग दोगुनी हो गई है, जो 2005 में 23.1 प्रतिशत थी और बढ़कर 2015 में 41.5 प्रतिशत हो गई


in-the-first-5-hour-of-life-3-out-of-5-born-children-are-deprived-of-breastfeeding

नवजात शिशु के लिए माँ का दूध सबसे जरुरी है। कई रिसर्च में यह बताया गया है कि पैदा होने के बाद, जो बच्चे 6 माह तक माँ का दूध पीते हैं, वे स्वस्थ और बुद्धिमान होते हैं। साथ ही नवजात शिशु में माँ के दूध से रोग प्रतिरोधक क्षमता भी विकसित होती है।

लेकिन यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार दूनिया भर में अनुमानित 7.8 करोड़ शिशु यानी प्रत्येक पांच में से तीन शिशुओं को जन्म लेने के बाद शुरुआती प्रथम घंटे में स्तनपान नहीं कराया जाता है, जो उन्हें मौत और रोगों के उच्च जोखिम की ओर ले जा सकता है। साथ ही इससे शिशुओं में उच्च शारीरिक और मानसिक विकास मानकों को पूरा करने की संभावनाएं कम हो जाती हैं।

भारत ने हालांकि 2005-15 के एक दशक के भीतर कुछ प्रगति की है और जन्म के प्रथम घंटे में स्तनपान का आंकड़ा दोगुना हो गया है। लेकिन देश में सीजेरियन से पैदा होने वाले नवजात बच्चों के बीच स्तनपान की प्रक्रिया में काफी कमी पाई गई।

रपट के अनुसार, भारत का आंकड़ा इस तथ्य को इंगित करता है कि जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान कराने की प्रक्रिया भारत में लगभग दोगुनी हो गई है, जो 2005 में 23.1 प्रतिशत थी और बढ़कर 2015 में 41.5 प्रतिशत हो गई।

जिन बच्चों को जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान नहीं कराया जाता है, उनमें मृत्यु दर का जोखिम 33 प्रतिशत अधिक होता है। भारत इस चुनौती का सामना कर रहा है कि स्तनपान समय से शुरू हो और बच्चों को जन्म के प्रथम छह महीनों में केवल स्तनपान ही कराया जाए।

भारत में यूनिसेफ की प्रतिनिधि यास्मीन अली हक ने कहा, "स्तनपान सभी बच्चों को जीवन की सबसे स्वस्थ शुरुआत देता है। यह मस्तिष्क के विकास को उत्तेजित करता है, उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देता है और उन्हें आगे पुरानी रोगों से बचाने में मदद करता है।" 
 

advertisement