India hikes customs duty to 200 per cent on all goods imported from Pakistan - Times Now     |       Separatist leaders to no longer get security cover, Jammu and Kashmir administration decides - Times Now     |       बिहार: पुलवामा हमले पर PM नरेंद्र मोदी बोले- जो आग आपके दिल में है, वही आग मेरे अंदर भी धधक रही है - Hindustan     |       Kumbh 2019: शंकराचार्य स्वरूपानंद ने रामाग्रह यात्रा और शिलान्यास कार्यक्रम किया स्थगित, यह थी वजह- Amarujala - अमर उजाला     |       करोल बाग अग्निकांड: अर्पित होटल का मालिक दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार - News18 Hindi     |       कॉमेडी शो से OUT हुए नवजोत सिंह सिद्धू, अर्चना का वेलकम करते दिखे कपिल शर्मा - आज तक     |       पुलवामा अटैक: दो साल में छह बार हिरासत में लिया गया था आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार - नवभारत टाइम्स     |       India's fastest train, Vande Bharat Express, breaks down day after launch by PM Narendra Modi - Times Now     |       US Vice President Mike Pence urges EU to recognise Juan Guaido as president of Venezuela - Times Now     |       सुषमा स्वराज के दौरे के बाद ईरान ने पाकिस्तान के राजदूत को किया तलब - News18 Hindi     |       पुलवामा आतंकी हमला : भारत ने शुरू की पाकिस्तान व आतंकियों की घेराबंदी, इन 7 point में जानें - Hindustan     |       North Korean leader Kim Jong Un to arrive in Vietnam on February 25 ahead of Donald Trump summit - Times Now     |       सेंसेक्स करीब 70 अंक नीचे, निफ्टी 10725 के नीचे बंद - मनी कॉंट्रोल     |       Maruti और Ford की ये कारें नए अवतार में आईं भारत की सड़कों पर नजर - दैनिक जागरण     |       Infosys unveils learning app for engineering students - Times Now     |       5 साल बाद भारत में आ रही होंडा की यह कार, 7 मार्च को होगी लॉन्च- Amarujala - अमर उजाला     |       'सुपर डांसर चैप्टर 3' में शिल्पा ने माधुरी के पैर छूकर कही ये बात - Hindustan हिंदी     |       Gully Boy Box Office Collection Day 3: तीन दिन में फिल्‍म निकली 50 करोड़ के पार, जानें तीसरे दिन का कलेक्‍शन - Times Now Hindi     |       Bhojpuri Cinema: खेसारी लाल यादव ने होली के इस गाने पर मचाई धूम, जमकर वायरल हो रहा Video - NDTV India     |       Kartik Aaryan reveals he is NOT dating Ananya Panday. Sara Ali Khan, are you listening? - Times Now     |       पुलवामा हमला : CCI सचिव बोले- भारत को पाकिस्तान के साथ नहीं खेलना चाहिए विश्व कप का मैच - News18 Hindi     |       Big Bash League: Melbourne Renegades win Big Bash final after Stars implode - Times Now     |       BCCI करेगा पुलवामा में शहीद जवानों के परिजनों की मदद - WahCricket     |       श्रीलंका की टीम ने वो कर दिखाया जो इससे पहले कोई भी एशियाई टीम नहीं कर पाई थी, परेरा ने भी रचा इतिहास - दैनिक जागरण     |      

खेल


क्या ढाका टेस्ट में तेज गेंदबाज न खिलाना तेज गेंदबाजी का अंत है, कर्टनी वॉल्श ने दिया है जवाब

ढाका टेस्ट में बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पारी और 184 रनों से जीत हासिल की थी। यह बांग्लादेश के लिए ऐतिहासिक जीत भी थी, क्योंकि टीम ने पहली बार किसी टेस्ट मैच में पारी से जीत हासिल की थी


its-not-end-of-fast-bowling-fast-bowlers-not-playing-in-dhaka-test-is-just-momentary-says-walsh

बांग्लादेश किकेट टीम के गेंदबाजी कोच कर्टनी वॉल्श का कहना है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ ढाका टेस्ट में तेज गेंदबाजों को शामिल न करने का मतलब यह नहीं कि यह कि देश में तेज गेंदबाजी का अंत हो रहा है।

वेबसाइट 'ईएसपीएन' की रिपोर्ट के अनुसार, वॉल्श ने कहा कि ढाका टेस्ट में तेज गेंदबाजी को अहमियत न दिए जाने से टीम के तेज गेंदबाजों को गलत संदेश देना का उनका कोई इरादा नहीं है। 

उल्लेखनीय है कि ढाका टेस्ट में बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पारी और 184 रनों से जीत हासिल की थी। यह बांग्लादेश के लिए ऐतिहासिक जीत भी थी, क्योंकि टीम ने पहली बार किसी टेस्ट मैच में पारी से जीत हासिल की थी। 

इसके अलावा, बांग्लादेश के 18 साल के टेस्ट इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी टेस्ट मैच में अंतिम एकादश में एक भी तेज गेंदबाज शामिल नहीं किया गया। चटगांव में खेले गए पहले टेस्ट मैच में तेज गेंदबाजों को शामिल किया गया था लेकिन उसमें भी विकेट स्पिन गेंदबाजों ने लिए। 

ऐसे में बांग्लादेश के टेस्ट इतिहास में पहली बार हुआ कि किसी टीम के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज में 40 विकेट स्पिन गेंदबाजों ने ही लिए। बांग्लादेश ने इस सीरीज को 2-0 से अपने नाम किया। 

ढाका में खेले गए टेस्ट मैच में अंतिम एकादश में किसी भी तेज गेंदबाज को शामिल न किए जाने के फैसले पर वॉल्श ने कहा, "यह पहला टेस्ट मैच था जिसमें कोई भी तेज गेंदबाज शामिल नहीं था। यह सीरीज को जीतने के लिए किया गया परीक्षण था। मेरे लिए इससे कोई गलत संदेश देने की कोशिश नहीं है। रणनीतिक रूप से देखा जाए, तो मुझे ऐसा लगा कि बिना किसी तेज गेंदबाज के बांग्लादेश का टेस्ट मैच जीतना सबसे सही है।"

वॉल्श ने कहा कि भले ही यह पहली बार हुआ हो, लेकिन परिणाम मायने रखते हैं। सीरीज जीतना बेहतरीन एहसास था। उन्होंने कहा, "आगे भी कई वनडे और टी-20 मैच आएंगे, जिनमें तेज गेंदबाजों को खेलने का मौका मिलेगा। युवा खिलाड़ी इसे देखेंगे और खेलना चाहेंगे। मैं अपने फैसले से किसी भी तेज गेंदबाज को गलत संदेश नहीं देना चाहता हूं।"

advertisement