दिल दहला देगा सूरत में आग से घिरे कोचिंग सेंटर का ये वीडियो Gujarat: Students feared killed in coaching centre fire - आज तक     |       Madhya Pradesh's Sehore district Congress president dies of heart attack - Times Now     |       इस सरकार का सूर्यास्त हो गया, लेकिन इसकी लालिमा से लोगों की जिंदगी रोशन रहेगी: मोदी - Hindustan     |       मोदी 30 को ले सकते हैं शपथ, अमेरिका समेत पी-5 देशों को बुलाने की तैयारी - अमर उजाला     |       रामपुर: 'घर के भेदियों' की आलाकमान से शिकायत करेंगी जया प्रदा - Navbharat Times     |       Results 2019: क्या PM मोदी के दूसरे कार्यकाल में वित्त मंत्री के पद पर नहीं रहेंगे अरुण जेटली? आई यह बड़ी खबर - NDTV India     |       Now that Rahul Gandhi has lost Amethi to Smriti Irani, will Navjot Singh Sidhu quit politics? ask Twitterati - Times Now     |       क्या करारी हार पर इस्तीफा देंगे राहुल गांधी! CWC की बैठक में होगा फैसला - आज तक     |       जो पेड़ लगाया था अब वह फल देने लगा: मुरली मनोहर जोशी Was confident of a BJP win, says Murli Manohar Joshi - Lok Sabha Election 2019 - आज तक     |       Lok Sabha Election Result 2019: राहुल के सामने नई मुसीबत, राज्‍यों से अध्‍यक्षों के इस्‍तीफे की ताबड़तोड़ पेशकश - Jansatta     |       ब्रितानी प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे को कैसे ले डूबा ब्रेक्सिट - BBC हिंदी     |       मोदी सुनामी से पाकिस्तानी मीडिया में हलचल, साध्वी प्रज्ञा का भी जिक्र - आज तक     |       नरेंद्र मोदी की जीत मुस्लिम दुनिया की मीडिया में 'चिंता या उम्मीद' - अमर उजाला     |       लोकसभा चुनाव रिजल्ट LIVE: केंद्रीय कैबिनेट की हुई बैठक, अरुण जेटली इस वजह से नहीं हुए शामिल - Times Now Hindi     |       सेंसेक्स 40124 के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंचने के बाद फिसला, 299 अंक नीचे 38811 पर बंद - Dainik Bhaskar     |       Toyota Glanza: लॉन्च से पहले यहां जानें- इंजन, वेरिएंट, फीचर्स, माइलेज, कीमत - आज तक     |       ह्यूंदै वेन्यू: जानें, SUV का कौन सा वेरियंट आपके लिए बेस्ट - नवभारत टाइम्स     |       यहां देखें Kia की अपकमिंग कॉम्पैक्ट SUV का इंटीरियर, ये होंगे फीचर्स - आज तक     |       फिल्म रिव्यू: असल जिंदगी के हीरोज की कहानी है 'इंडियाज मोस्ट वांटेड' - NDTV India     |       PM Narendra Modi Movie Review: जानिए कैसी है विवेक ओबेरॉय की फिल्म? - India TV हिंदी     |       सोशल मीडिया/ ट्रोलर्स ने दी बेटी को रेप की धमकी, अनुराग कश्यप ने नरेंद्र मोदी से मांगी मदद - Dainik Bhaskar     |       ग्लैमरस हुईं बिग बॉस की सीदी-साधी उर्वशी, मेकओवर ने किया हैरान - आज तक     |       कोहली बोले- वनडे में 500 रनों के स्कोर तक पहुंच सकता है इंग्लैंड - आज तक     |       2019 वर्ल्ड कप में उतरेगी भारत की सबसे बूढ़ी टीम, विरोधियों को करेगी चित - Sports - आज तक     |       World Cup 2019: विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाड़ियों का ध्यान नहीं भटके इसके लिये पीसीबी की है ये नई योजना - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       भारत को बड़ा झटका, वर्ल्ड कप से ठीक पहले विजय शंकर चोटिल - Navbharat Times     |      

राजनीति


मौलानाओं ने की रमजान में पड़ रही चुनाव तिथियों में फेरबदल की मांग, ओवैसी ने कहा- इसमें कुछ भी गलत नहीं

लोकसभा चुनाव के बीच में रमजान पड़ने पर मौलानाओं ने ऐतराज जताते हुए आयोग से तिथियों में फेरबदल करने की मांग की है। इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने नाराजगी जताई है। उन्होंने चुनाव आयोग से मुसलमानों की भावना का खयाल रखने और चुनाव तिथि रमजान माह से पहले या बाद में करने की मांग की है


maulanas-demanded-amendment-in-election-dates-falling-in-ramadan-owaisi-said-nothing-wrong-in-this

लोकसभा चुनाव के बीच में रमजान पड़ने पर मौलानाओं ने ऐतराज जताते हुए आयोग से तिथियों में फेरबदल करने की मांग की है। इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने नाराजगी जताई है। उन्होंने चुनाव आयोग से मुसलमानों की भावना का खयाल रखने और चुनाव तिथि रमजान माह से पहले या बाद में करने की मांग की है।

जबकि मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुस्लिमों के पाक महीने रमजान में चुनाव होने का मतदाताओं की उपस्थिति पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। उन्होंने राजनीतिक दलों द्वारा इस तरह का विवाद उठाने की निंदा की।

फरंगी महली ने कहा, "पांच मई से रमजान शुरू हो जाएगा। चांद देखने के बाद पहला रोज छह मई को पड़ेगा। ऐसे में गर्मी के कारण मुस्लिमों को दिक्कत हो सकती है। इन बातों का ध्यान रखते हुए आयोग तिथियों में बदलाव कर दे तो बेहतर होगा।"

लखनऊ के शहर काजी और मुफ्ती अबुल इरफान ने कहा, "रमजान के दौरान भयंकर गर्मी होगी। ऐसे में रोजेदारों को वोट डालने के लिए घरों से निकलने में दिक्कत होगी। इससे वोट प्रतिशत भी घटेगा। हम हमेशा लोगों से वोट ज्यादा से ज्यादा डालने की अपील भी करते हैं। लेकिन इस दौरान यह मुनासिब नहीं हो पाएगा।

चुनाव आयोग इस बात का ख्याल रखते हुए तिथियों को बदल दे। यह हमारी उनसे मांग है।" उन्होंने कहा कि छह मई, 12 मई व 19 मई को मतदान की तारीखों को बदल कर कुछ और चुन लें जिससे मुस्लिमों को सहूलियत हो जाएगी।

शिया धर्मगुरु कल्बे जव्वाद ने कहा कि आयोग को रमजान की तारीख को ध्यान में रख कर घोषणा करनी चाहिए थी। वोट डालने के लिए लोगों को घंटों लाइन में खड़े रहना पड़ता है। ऐसे में रोजेदारों को गर्मी में मुश्किल होगी। ऐसे में मुस्लिमों की तादाद भी वोट डालने से वंचित रह जाएगी। इसलिए हमारी गुजारिश है कि चुनाव आयोग इन तारीखों को बदल दें।

उधर, एमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने उम्मीद जताई कि रमजान के दौरान मतदान का प्रतिशत ज्यादा होगा, क्योंकि उपवास के महीने के दौरान महसूस होने वाली आध्यात्मिकता की वजह से अधिक संख्या में मुस्लिम बाहर आएंगे और वोट डालेंगे।

उन्होंने सोमवार को मीडिया से कहा, "मुस्लिम उपवास के दौरान कार्यालय जाते हैं और अपना व्यवसाय करते हैं। इसमें मजदूर, रिक्शा चालक भी शामिल हैं जो उपवास रखते हैं। उनकी सामान्य गतिविधि प्रभावित नहीं होती।"

ओवैसी ने कहा कि रमजान के दौरान चुनाव वाले राज्यों में मतदान के दिन छुट्टी होगी, ऐसे में मुस्लिमों को वोट डालने में कोई दिक्कत नहीं होगी। उन्होंने कहा, "सच तो यह है कि रमजान के दौरान वे रोजमर्रा के खाना बनाने व खाने के कामों से मुक्त होंगे।"

उन्होंने कहा कि यह कहना गलत है कि रमजान की वजह से मतदान प्रतिशत में गिरावट आएगी। ओवैसी ने कहा कि चुनाव प्रक्रिया को 3 जून को पूरा होना है और अगर रमजान 5 मई से शुरू होकर 4 जून को समाप्त हो रहा है तो चुनाव आयोग के पास इस अवधि के दौरान चुनाव कराने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। 

गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने रविवार को लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखें घोषित कर दी हैं। चुनाव सात चरणों में होगा। मतदान का पहला चरण 11 अप्रैल को और आखिरी चरण 19 मई को होगा। मतगणना 23 मई को होगी।

advertisement