राजस्थान चुनाव: BJP ने सचिन पायलट के खिलाफ युनूस खान को मैदान में उतारा     |       विवाद / आरबीआई बोर्ड की अहम बैठक शुरू, सरकार से मतभेद खत्म होने के आसार     |       अमृतसर हमला: विवाद के बाद बैकफुट पर फुल्का, कांग्रेस ने बताया मानसिक दिवालिया     |       इंदिरा गांधीः सख्त फैसलों से बनीं 'आयरन लेडी', इसी से जुड़ी है उनकी हत्या की कड़ी     |       UPTET परीक्षा में नकल करते पकड़ी गई महिला शिक्षामित्र, धांधली में हुई 35 की गिरफ्तारी     |       सबरीमला विवाद: CM के घर के बाहर श्रद्धालुओं का प्रदर्शन, पुलिस पर लगाया दुर्व्यवहार का आरोप     |       महिला से फोन पर अचानक लोग करने लगे 'गंदी बातें', खुला राज तो सन्न रह गए लोग     |       18000 फीट ऊंचाई, भारत में बन रहा ग्लेशियर से गुजरने वाला पहला रोड     |       Tulsi Vivah 2018: तुलसी विवाह का शुभ मुहूर्त, शादी की विधि, देवों को जगाने का मंत्र और कथा     |       अलीगढ़: हैवान टीचर ने बच्चे की बेरहमी से की पिटाई, जूते से मारकर मुस्कुराने को कहा     |       2019 लोकसभा चुनाव से पहले शिवसेना का नया नारा: हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर, फिर सरकार     |       नक्सलियों के साथ दिग्विजय सिंह की कॉल का लिंक मिला: पुणे पुलिस     |       KMP एक्सप्रेसवे का उद्घाटन आज, दिल्ली से घटेगा गाड़ियों का बोझ     |       IT-ED की छापेमारी रोकने के लिए कोर्ट जा सकते हैं नायडू, विपक्ष को भी मनाएंगे     |       पाकिस्‍तान पर भड़के डोनाल्‍ड ट्रंप, कहा- वो हमारे लिए कुछ भी नहीं करता     |       मराठा आरक्षण को महाराष्ट्र सरकार ने दी मंज़ूरी, कितना आरक्षण मिलेगा ये तय नहीं     |       मध्यप्रदेश चुनाव: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मैहर में किया रोड शो     |       चिकन सेंटर पर भीड़ की सूचना पर उड़नदस्ते ने की छापामारी, 10 रुपए के नोट जब्त किए     |       Top 5 News : सेना में बड़े बदलाव की तैयारी, RBI की महत्वपूर्ण बोर्ड बैठक आज     |       सिद्धू ने इशारों में सिंहदेव को बताया मुख्यमंत्री उम्मीदवार     |      

विदेश


मारे गए पत्रकार खशोगी का बेटा परिवार सहित सऊदी अरब से अमेरिका पहुंचा

सालाह खशोगी समाचार पत्र 'द वाशिंगटन पोस्ट' के स्तंभकार जमाल खशोगी के सबसे बड़े बेटे हैं। दो अक्टूबर को जमाल खशोगी की इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में हत्या कर दी गई थी


murdered-khashogis-son-and-family-reaches-usa-from-saudi-arab

सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के बाद उनके बेटे परिवार सहित रियाद से अमेरिका पहुंच गए हैं। इससे पहले अमेरिका और सऊदी अरब की दोहरी नागरिकता वाले सालाह बिन जमाल खशोगी कुछ महीने पहले सऊदी द्वारा पासपोर्ट पर प्रतिबंध लगाए जाने से रियाद नहीं छोड़ पाए थे। 

अमेरिकी विदेश विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने सऊदी अरब से मृतक पत्रकार के बेटे को रिहा करने का आग्रह किया था और उपप्रवक्ता रॉबर्ट पैलेडिनो ने कहा कि सालाह को देश छोड़ने की अनुमति मिलने से अमेरिका बहुत खुश है।

सालाह खशोगी समाचार पत्र 'द वाशिंगटन पोस्ट' के स्तंभकार जमाल खशोगी के सबसे बड़े बेटे हैं। दो अक्टूबर को जमाल खशोगी की इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में हत्या कर दी गई थी। 

सालाह का रियाद से रवाना होना सार्वजनिक सऊदी अभियोजन कार्यालय द्वारा तुर्की की एक रिपोर्ट को स्वीकार किए जाने के कुछ घंटों बाद हुआ, जिसमें कहा गया है कि पत्रकार की हत्या सुनियोजित तरीके से की गई और कहा कि अपराध के लिए जिम्मेदार लोगों को दंडित किया जाएगा।

इससे पहले सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान ने जमाल खशोगी के बेटे से मुलाकात की थी।
 

advertisement