PM मोदी ने दी नंबर गेम पर नसीहत, क्या कांग्रेस को मिलेगा नेता विपक्ष का पद? - आज तक     |       कभी साइकिल की दुकान चलाते थे प्रोटेम स्पीकर डॉ वीरेंद्र कुमार, जानिए उनके बारे में - अमर उजाला     |       Doctors Strike: IMA की देशव्यापी हड़ताल शुरू, AIIMS में 12 बजे से ठप हो जाएगी ओपीडी - दैनिक जागरण     |       बिहार में दिमाग़ी बुख़ार का क़हर, बीमारों से मिलने पहुंचे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री - NDTV India     |       बिहार में लगातार बढ़ रहा है चमकी बुखार का प्रकोप, मुजफ्फरपुर के बाद कई और जिलों में फैली बीमारी - ABP News     |       पीएम मोदी ने कहा, सभी दलों से सहयोग की अपील - NDTV India     |       World Cup 2019: बिना आउट हुए ही चलते बने कोहली, ड्रेसिंग रूम में जाकर निकाली भड़ास - अमर उजाला     |       World Cup कोई भी क्रिकेट टीम जीते, जश्न के लिए नहीं मिलेगी ICC ट्रॉफी - आज तक     |       World Cup 2019: भारत की पाकिस्तान पर जीत के बाद जम्मू-कश्मीर में मानो दिवाली हो - अमर उजाला     |       India vs Pakistan ICC world cup 2019: विराट ने अपना विकेट पाकिस्तान को गिफ्ट किया, खुद ही लौट गए पवेलियन! - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       खबरदार: डॉक्टरों की मांगे स्वीकारने के बाद भी 'जिद' पर अड़ीं ममता? - आज तक     |       पाकिस्तान ने दी भारत को आतंकी हमले की सूचना, कश्मीर में हाई अलर्ट - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       Monsoon Updates: 2-3 दिनों में आगे बढ़ेगा मानसून, जानें दिल्‍ली में कैसा रहेगा मौसम - Times Now Hindi     |       क्राइम/ धर्म छिपाकर यूपी के मंदिर में विवाह किया रांची में किया निकाह, 5 साल बाद दिया तलाक - Dainik Bhaskar     |       पाक ने कट्टरपंथी अधिकारी फैज हमीद को चुना आईएसआई का चीफ, मुनीर को 8 महीने में ही हटाया - Navbharat Times     |       पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, पुंछ सेक्टर में दागे मोर्टार, तीन लोग जख्मी - आज तक     |       शंघाई समिट/ लीडर्स लाउंज में मोदी से मिले इमरान, इससे पहले दो बार भारतीय पीएम ने उन्हें नजरअंदाज किया था - Dainik Bhaskar     |       दक्षिण अमेरिका के तीन देश अंधेरे में डूबे, गलियों और सड़कों पर सन्नाटा पसरा - Hindustan हिंदी     |       Maruti दे रही है Vitara Brezza पर सबसे बड़ा डिस्काउंट, लेकिन मौका आखिरी है - अमर उजाला     |       यहां देखें Tata की नई कार Altroz का टीजर, जल्द भारत में होने वाली है लॉन्च - आज तक     |       मारुति ने वैगन आर का नया मॉडल किया लांच, जानें कीमत - Goodreturns Hindi     |       नई Mahindra Scorpio की तस्वीरें फिर लीक, जानें डीटेल - Navbharat Times     |       शाहरुख के बेटे आर्यन लीड रोल करने को हुए राजी, पिता संग इस फिल्म में करेंगे काम - अमर उजाला     |       जब Shilpa Shetty मेरे एक्स बॉयफ्रेंड Akshay Kumar को डेट रही थीं हम तब भी दोस्त थे : Raveena Tandon - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       India Vs Pakistan: Abhinandan वाले ऐड का जवाब देने पर Harsh Goenka पर बरसे Ali Fazal - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       राजस्थान की सुमन राव बनीं Miss India World 2019, छत्तीसगढ़ की शिवानी जाधव के नाम रही यह उपलब्धि - Lokmat News Hindi     |       वर्ल्ड कप/ वेस्टइंडीज-बांग्लादेश मैच आज, इंग्लैंड में दोनों टीमें 15 साल बाद आमने-सामने - Dainik Bhaskar     |       ICC World Cup 2019: हार के बाद श्रीलंका की शर्मनाक हरकत, ICC लगा सकता है जुर्माना - Hindustan     |       पाक के खिलाफ भारत की जीत को अमित शाह ने बताया 'एक और स्ट्राइक' तो केजरीवाल बोले- हिंदुस्तान को... - NDTV India     |       वे 6 मौके जब भारत ने PAK का तोड़ा गुरूर, फैंस को दिया जीत का तोहफा - cricket world cup 2019 AajTak - आज तक     |      

राजनीति


प्रधानमंत्री मोदी भी कविता में व्यक्त करते हैं मनोभाव

नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद इन दिनों उनकी कुछ कविताएं सोशल मीडिया और भाजपा कार्यकर्ताओं में खासा लोकप्रिय हो रही हैं। उनकी कविता 'अभी तो सूरज उगा है' को युवा वर्ग काफी पसंद कर रहा है।


prime-minister-modi-also-expresses-his-feelings-in-poetry

हाल ही में एक निजी टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में जब नरेंद्र मोदी से पूछा गया कि पिछले पांच साल में उन्होंने कोई कविता लिखी है तो उन्होंने 'अभी तो सूरज उगा है' कविता सुनाई। 

कविता कुछ यूं है-'आसमान में सर उठाकर/ घने बादलों को चीरकर/ रोशनी का संकल्प लें/ अभी तो सूरज उगा है/ दृढ़ निश्चय के साथ चल कर/ हर मुश्किल को पारकर/ घोर अंधेरे को मिटाने/ अभी तो सूरज उगा है/ विश्वास की लौ जलाकर/ विकास का दीपक लेकर/ सपनों को साकार करने/ अभी तो सूरज उगा है/ न अपना न पराया/ न मेरा न तेरा/ सबका तेज बनकर/ अभी तो सूरज उगा है/ आग को समेटते/ प्रकाश को बिखेरता/ चलता और चलाता/ अभी तो सूरज उगा है/ विकृति ने प्रकृति को दबोचा/ अपनों से ध्वस्त होती आज है/ कल बचाने और बनाने/ अभी तो सूरज उगा है।'

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तरह नरेंद्र मोदी भी अपने मनोभावों को कविता में व्यक्त करते हैं। मोदी की पहली कविता संग्रह गुजराती में वर्ष 2007 में 'आंख आ धन्य छे' प्रकाशित हुआ। 67 कविताओं का यह संग्रह 'आंख ये धन्य है' नाम से दिल्ली के विकल्प प्रकाशन ने प्रकाशित किया। ये कविताएं जिंदगी की आंच में तपे हुए मन की अभिव्यक्ति है। इस संग्रह में मोदी की 1986 से 1989 तक लिखी गई कविताएं हैं। 

प्रभात प्रकाशन ने मोदी के गुजराती कविता संग्रह 'साक्षी भाव' का हिंदी अनुवाद 2015 में 'साक्षी भाव' नाम से प्रकाशित किया जिसमें 16 कविताएं संकलित हैं। प्रभात प्रकाशन के प्रमुख प्रभात कुमार ने आईएएनएस से कहा कि इस संग्रह में नरेंद्र भाई की 1986 से 1989 तक की कविताएं संकलित हैं। वह जब इस पुस्तक के सिलसिले में मोदी जी से मिले तब वे गुजरात के मुख्यमंत्री थे। 

प्रभात कुमार ने कहा, "उस वक्त उन्होंने कहा था कि ये कविताएं नहीं हैं, उनके मनोभाव हैं। प्रधानमंत्री से अलग मोदी जी की कविताओं को देखें तो ये काफी भावपूर्ण हैं और कोई कवि हृदय ही ऐसा कर पाएगा।" 

एक कविता में उन्होंने लिखा है- मेरे नए उत्तरदायित्व के विषय में/बाह्य वातावरण में तूफान/लगभग थम गया है/सबक आश्चर्य, प्रश्न आदि अब पूर्णता की ओर हैं/अब अपेक्षाओं का प्रारंभ होगा/अपेक्षाओं की व्यापकता और तीव्रता खूब होगी/तब मेरे नवजीवन की रचना ही अभी तो शेष है।

प्रभात कुमार ने कहा कि यह किताब डायरी रूप में जगज्जननी मां से संवाद रूप में व्यक्त उनके मनोभावों का संकलन है, जिसमें उनकी अंतर्दृष्टि, संवेदना, कर्मठता, राष्ट्रदर्शन व सामाजिक सरोकार स्पष्ट झलकते हैं। 

मध्यप्रदेश में दीनदयाल विचार प्रकाशन की पत्रिका 'चरैवेति' ने उनकी कुछ कविताओं को प्रकाशित किया था। इस पत्रिका के संपादक रहे जयराम शुक्ला ने कहा, "मोदी जी की कविताओं में सौंदर्य, प्रेम, श्रम, संकल्प, समर्पण है। मोदी जी का प्रस्तुतीकरण व्में लौह में तपा हुआ एक कवि हृदय झलकता है। इसमें राष्ट्रवाद भी है।"

जयराम शुक्ला ने आईएएनएस से कहा, "कभी-कभी कुछ अविस्मरणीय काम अनायास ही हो जाते हैं। दीनदयाल विचार प्रकाशन की पत्रिका 'चरैवेति' का संपादन करते हुए मई 2015 के अंक को मोदीजी पर केंद्रित किया था। उस अंक का सबसे चर्चित भाग था कवि के रूप में मोदी। 

उन्होंने कहा, "मोदीजी के व्यक्तित्व के विविध रूपों को खोजते-खोजते उनके द्वारा लिखी गईं कविताएं हाथ लगी। ये कविताएं मूलरूप से गुजराती भाषा में हैं जिनका हिंदी व अंग्रेजी में अनुवाद किया गया है..। चरैवेति के इस अंक की 20 लाख प्रतियां छापीं थी जो कि किसी गृहपत्रिका के प्रकाशन का राष्ट्रीय कीर्तिमान है। खास बात यह कि पत्रिका के इस अंक की चर्चा प्राय: सभी चैनलों ने अपने प्राइम टाइम में किया था..।"

कविताओं को ऑनलाइन संकलित करने वाली प्रमुख वेबसाइट कविता कोष के अनुसार, नरेंद्र मोदी की कई कविताएं हैं, जो काव्य कला की दृष्टि से उत्तम हैं और अधिकांश कविताएं देशभक्ति और मानवता से जुड़ी हैं। 

 

advertisement