मुख्यमंत्री केजरीवाल पर सचिवालय में मिर्च पाउडर फेंकने से पहले शख्स ने कहा- 'आप ही से उम्मीद है'     |       हल्द्वानी निकाय चुनाव नतीजे Live: 29 सीटों पर निर्दलीय, 12 पर BJP जीती     |       ओडिशा / महानदी पर बने पुल से नीचे गिरी बस, 30 यात्री सवार थे; 7 की मौत     |       जाको राखे साइयांः बच्ची के ऊपर से गुजरी ट्रेन, नहीं आई एक भी खरोंच     |       दिल्ली में पकड़ा गया हिज्‍बुल का आतंकी, SI इम्तियाज की हत्या में था शामिल     |       दिल्ली में दो आतंकियों के घुसने की आशंका, अलर्ट पर पुलिस- जारी की फोटो     |       आम्रपाली ग्रुप के अधूरे प्रोजेक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, नजरबंद हैं कंपनी के तीनों निदेशक     |       दीपिका रणवीर की शादी का बिग फोटो एलबम, हल्दी, मेंहदी, डांस और रस्म की तस्वीरें     |       सोशल मीडिया / ब्राह्मण विरोधी पोस्टर थामकर विवादों में आए ट्विटर के सीईओ, कंपनी ने माफी मांगी     |       फैक्ट चेक: नहीं, MP के CM शिवराज सिंह चौहान नॉन-वेज नहीं खा रहे हैं!     |       मिल्‍खा सिंह ने भी दौड़ना बंद किया था मैडम, थैंक यू- सुषमा स्वराज को पति का जवाब     |       दिल्ली / सिख विरोधी दंगों से जुड़े मामलों में पहली बार किसी दोषी को मौत की सजा सुनाई गई     |       ICC में हारा पाकिस्तान, अब खर्च वसूलने को भारत करेगा केस     |       परफॉर्मेंस पर ममता की खिंचाई के बाद मंत्री ने दिया कैबिनेट से इस्तीफा     |       ब्रजेश ठाकुर की करीबी मधु को CBI ने हिरासत में लिया, पूछताछ जारी     |       अयोध्या विवाद: कानून बनाकर हल निकालने वाले बयान से पलटे इकबाल अंसारी     |       भारत-रूस के बीच दो युद्धपोत बनाने का करार, अमेरिकी धमकियों के बावजूद बढ़ा सैन्य सहयोग     |       मध्य प्रदेश: विधानसभा चुनाव में गठबंधन करके BSP को खत्म करना चाहती थी कांग्रेस- मायावती     |       सरकार की इस स्कीम में 10 हजार रुपए तक मिल सकती है पेंशन, आप भी उठा सकते हैं फायदा     |       BJP को कश्मीर में बड़ा झटका, लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश नहीं बनाया तो सांसद ने दिया इस्तीफा     |      

विदेश


सऊदी अरब ने पत्रकार खाशोगी की हत्या को स्वीकारा, 18 दिन पहले हुआ था लापता

बयान में स्वीकार किया गया कि वाणिज्यिक दूतावास में झड़प के दौरान खाशोगी की मौत हो गई। वह यहां अपनी मंगेतर हेटिस केनजिग से शादी के लिए जरूरी कागजात लेने आए थे जबकि इस पूरे प्रकरण के दौरान उनकी मंगेतर दूतावास के बाहर कार में बैठी उनका इंतजार कर रही थीं


saudi-arab-accepted-that-journalist-khashoggi-dead-in-saudi-consulate-in-istanbul

सऊदी अरब ने लापता पत्रकार और वाशिंगटन पोस्ट के स्तभंकार जमाल खाशोगी की मौत इस्तांबुल में अपने वाणिज्यिक दूतावास में सऊदी अरब के दर्जनभर अधिकारियों के साथ झड़प के बाद होने की बात स्वीकार की है।

सीएनएन के मुताबिक, सऊदी अरब के सरकारी टीवी ने शुक्रवार रात को इसकी पुष्टि की। यह तुर्की में 18 दिन पहले खाशोगी के लापता होने के बाद उनकी मौत को लेकर पहली आधिकारिक पुष्टि है और पहली बार सऊदी अरब ने इसमें अपनी भागीदारी को स्वीकार किया है। 

बयान के मुताबिक, "सऊदी अरब ने इस मामले में हुए पीड़ादायक घटनाक्रमों पर गहरा खेद जताते हुए कहा कि इस मामले को स्पष्ट रूप से जनता के सामने रखा जाएगा और इसमें शामिल लोगों को कानूनी कठघरे में खड़ा किया जाएगा।"

बयान में स्वीकार किया गया कि वाणिज्यिक दूतावास में झड़प के दौरान खाशोगी की मौत हो गई। वह यहां अपनी मंगेतर हेटिस केनजिग से शादी के लिए जरूरी कागजात लेने आए थे जबकि इस पूरे प्रकरण के दौरान उनकी मंगेतर दूतावास के बाहर कार में बैठी उनका इंतजार कर रही थीं। 

इस संबंध में पांच उच्चस्तरीय अधिकारियों को उनके पदों से हटा दिया गया है, जिसमें सऊदी अरब की खुफिया एजेंसी के उपप्रमुख भी हैं। वहीं 18 को हिरासत में लिया गया है। प्राथमिक जांच से पता चला है कि एक संदिग्ध खाशोगी से मिलने के इरादे से इस्तांबुल गया था। 

इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें सऊदी अरब का यह दावा विश्वसनीय लगता है। उन्होंने सऊदी अरब के आधिकारिक बयान को एक अच्छा कदम बताते हुए कहा कि सऊदी अरब के अधिकारियों से चर्चा की जाएगी।

ट्रंप ने कहा, "मुझे लगता है कि हम इस बड़ी समस्या को खत्म करने के करीब पहुंच गए हैं।" उन्होंने कहा कि सऊदी अरब मध्यपूर्व में हमारा सबसे बड़ा साझेदार है लेकिन जो कुछ भी हुआ, वह अस्वीकार्य है। खाशोगी के लापता होने के बाद से ही सऊदी अरब विवादों में घिरा हुआ था।
 

advertisement